BJP ने किसानों की आय तो दोगुनी नहीं की लेकिन गैस के दाम जरूर डबल कर दिए: अखिलेश यादव

Ankul Kaushik, Last updated: Thu, 2nd Sep 2021, 3:50 PM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जनवादी जनक्रांति यात्रा के संपन्न होने पर बीजेपी पर हमला बोला है. इस यात्रा के संपन्न होने पर अखिलेश ने कहा कि किसान की आय दोगुनी नहीं हुई लेकिन सिलेंडर की कीमत डबल हुई है कि नहीं.
समाजवादियों का नारा सपा होगी 400 पार- अखिलेश यादव, फोटो क्रेडिट (अखिलेश यादव ट्विटर)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 से पहले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की पार्टी सपा ने जनवादी जनक्रांति यात्रा निकाली. सपा की जनवादी जनक्रांति यात्रा के संपन्न होने यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी और केंद्र की बीजेपी m पर हमला बोला है. जनवादी जनक्रांति यात्रा के संपन्न होने पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा किसान की आय दोगुनी नहीं हुई लेकिन सिलेंडर की कीमत कितनी हुई, दोगुनी हुई की नहीं हुई. इसके साथ ही अखिलेश ने कहा- यह यात्रा जिन क्षेत्रों से होकर निकली हैं वहां पर भाजपा का सफाया हो जाएगा. इसलिए समाजवादियों ने सपा पार्टी के लिए 400 पार का नारा चुना है. इसके साथ ही अखिलेश ने कहा कि भाजपा सरकार से प्रदेश की जनता त्रस्त है और सबसे अधिक किसान इस सरकार से परेशान हैं.

बीजेपी सरकार ने चुनाव में आने से पहले किसानों की कर्जमाफी का वादा किया था लेकिन वह वादा सरकार ने पूरा नहीं किया है. इसके साथ ही बीजेपी सरकार डीजल, पेट्रोल और घरेलू गैस सिलेंडर की कीमतों में आए दिन बढ़ोत्तरी कर रही है. महंगाई और बेरोजगारी से देश और प्रदेश के युवा भी किसानों के साथ बीजेपी सरकार से परेशान हैं. इस सरकार में भ्रष्टाचार लगातार बढ़ रहा है और अब प्रदेश की जनता को ऐसी सरकार नहीं चाहिए.

यूपी की जनता के साथ जिस तरह अन्याय हुआ वह लोकतंत्र के लिए दुर्भाग्यपूर्ण- अखिलेश यादव

वहीं अखिलेश ने उत्तर प्रदेश की स्वास्थ्य व्यवस्था पर बोलते हुए कहा प्रदेश में खराब स्वास्थ्य सेवाओं के कारण लोग पीड़ित हैं. बारिश और जलजमाव के कारण बीमारियां तेजी से फैल रही हैं. इस तरह की बीमारियों से संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. इन बीमारियों के संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और आसपास के जिले टाइफाइड की चपेट में हैं, राजधानी लखनऊ में अब तक लगभग 100 लोग टाइफाइड की चपेट में आ चुके हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें