UP चुनाव: लखनऊ में सपा गठबंधन के नेता अखिलेश यादव से मिले, जयंत चौधरी गायब

Ruchi Sharma, Last updated: Wed, 12th Jan 2022, 2:31 PM IST
  •  समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यलय पर सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव की अध्यक्षता में सहयोगी दलों की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न हुई. इस बैठक में रालोद मुखिया जयंत चौधरी तो नजर नहीं लेकिन उनकी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद मौजद रहे.
UP चुनाव: लखनऊ में सपा गठबंधन के नेता अखिलेश यादव से मिले, जयंत चौधरी गायब

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के विधानसभा के पहले चरण के चुनाव के लिए प्रत्याशियों को लेकर माथापच्ची जारी है. बुधवार को समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यलय पर सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव की अध्यक्षता में सहयोगी दलों की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न हुई. इस बैठक में रालोद मुखिया जयंत चौधरी तो नजर नहीं आए लेकिन उनकी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मसूद अहमद मौजद रहे. बैठक में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सहयोगी दलों से चुनावी तैयारियों पर चर्चा की है. इस बैठक में शिवपाल के अलावा कृष्णा पटेल, ओपी राजभर, संजय चौहान, केशव देव मौर्य मौजूद रहें. इस दौरान अखिलेश यादव ने अपना दल (K) प्रमुख कृष्णा पटेल को बड़ा सम्मान दिया है. अखिलेश ने कृष्णा पटेल को मुख्य कुर्सी पर बैठाया और खुद साइड में बैठे.

इसकी एक तस्वीर अखिलेश यादव ने ट्विटर पर शेयर की है. उन्होंने फोटो शेयर करते हुए लिखा - 'सपा के सभी सहयोगी दलों के शीर्ष नेतृत्व के साथ, आज हुई उत्तर प्रदेश के विकाव व भविष्य की बात.' 

UP चुनाव: लखनऊ में सपा गठबंधन के नेता अखिलेश यादव से मिले, जयंत चौधरी गायब

 

 

बैठक के बाद केशव देव मौर्या ने कहा है कि आज शाम तक सपा गठबंधन के प्रत्याशियों की सूची जारी होगी. उन्होंने बताया कि पहले और दूसरे चरण के चुनाव के प्रत्याशियों की सूची आज शाम तक आएगी. बता दें कि बैठक से पहले प्रसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव अपने बेटे आदित्य के साथ अखिलेश यादव से मिलने लखनऊ पहुंचे थे. बताया जा रहा है कि बैठक में आरएलडी को छोड़कर सपा की सभी सहयोगी दल मौजूद रहीं.

 

 

 

अवतार सिंह आरएलडी में शामिल

वहीं भाजपा विधायक व पूर्व सांसद अवतार सिंह भड़ाना बुधवार को राष्ट्रीय लोक दल (आरएलडी) में शामिल हो गए. रालोद के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह से मुलाकात के बाद उन्होंने पार्टी का दामन थाम लिया. आरएलडी के ट्विटर हैंडल से दोनों नेताओं के बीच मुलाकात की तस्वीर साझा करते हुए यह जानकारी दी गई. ​बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की तारीखों की घोषणा होने के बाद दल बदलने व दूसरी पार्टी में शामिल होने की होड़ लगातार नेताओं में देखी जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें