सपा मुखिया 25.65 करोड़ संपत्ति के मालिक, फिर भी अखिलेश और डिंपल के पास नहीं है कार

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Tue, 1st Feb 2022, 3:17 PM IST
  • बड़ी-बड़ी गाड़ियों से चलने वाले सपा मुखिया अखिलेश यादव और उनकी पत्नी डिंपल यादव के पास कोई कार नहीं है. इसके बारे में अखिलेश यादव ने यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर नामांकन पत्र के साथ दाखिल किए शपथ पत्र में बताया. अखिलेश यादव के शपथ पत्र के अनुसार वह 25.65 करोड़ रुपए के संपत्ति के मालिक है.
सपा मुखिया 25.65 करोड़ संपत्ति के मालिक, फिर भी अखिलेश और डिंपल के पास नहीं है कार

लखनऊ. बड़ी-बड़ी गाड़ियों में चलने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के पास कोई कार नहीं है. इसकी जानकारी अखिलेश यादव में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर करहल से नामांकन पत्र के साथ दाखिल शपथ पत्र में दिया है. अखिलेश यादव ने अपने शपथ पत्र में बताया है कि वह 25.65 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक है, लेकिन उनके पास न तो कोई कार है और न ही सोना-चांदी. वहीं उनकी पत्नी डिंपल यादव के पास पौने तीन किलो सोना के साथ मोती और हीरे भी है. 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अपने शपथ पत्र में बताया कि उनके पास कुल 8.43 करोड़ रुपए की चल संपत्ति है. इसमें नकदी समेत मोबाइल फोन, व्यायाम के उपकरण और अन्य चीजें शामिल है. शपथ पत्र के अनुसार अखिलेश यादव के पास अचल संपत्ति में कृषि भूमि, आवासीय भूमि और भवन के रूप में 17.22 करोड़ रुपए की संपत्ति है. वहीं अखिलेश ने अपने आय का साधन वेतन, कृषि और किराया दिखाया है. साथ ही पत्नी डिंपल की आय का साधन पेंशन, किराया और कृषि बताया है. 

UP चुनाव: सपा की 10 कैंडिडेट की लिस्ट जारी, लखनऊ की 6 सीटों पर प्रत्याशी घोषित

अखिलेश यादव ने अपने शपथ पत्र में बताया है कि उनकी पत्नी डिंपल यादव के पास 4.67 करोड़ रुपए की चल संपत्ति है. वहीं अचल संपत्ति 9.61 करोड़ रुपए की है. इसके बावजूद उनके पास भी कोई कार नहीं है. वहीं डिंपल यादव के पास 2.770 किलोग्राम सोना है तो वहीं 203 ग्राम मोती है. इसके साथ ही उनके पास 127.55 कैरेट हीरे है. जिनकी कीमत करीब 60 लाख रुपए है. 

अखिलेश यादव ने अपने शपथ पत्र में बताया है कि उन्होंने अपने पिता मुलायम सिंह यादव को व्यक्तिगत कर्ज दिया है. साथ ही डिंपल यादव से उन्होंने 8.15 लाख रुपए का कर्ज लिया है. अखिलेश यादव ने इसके साथ ही 28.97 लाख रुपए की देनदारी भी अपने ऊपर दिखाई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें