अखिलेश यादव का हमला- BJP के दंभ को तोड़ देगी किसानों की एकता

Smart News Team, Last updated: Sun, 6th Jun 2021, 6:02 PM IST
  • सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जारी किए बयान में कहा कि कृषि कानूनों के खिलाफ आक्रोशित किसान एकता बीजेपी के दंभ को चकनाचूर कर देगी. उन्होंने रविवार को कहा कि कृषि कानूनों से कृषि अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है.
सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि कृषि कानूनों से कृषि अर्थव्यवस्था चौपट हुई.

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ आक्रोशित किसान एकता बीजेपी के दंभ को चकनाचूर कर देगी. अखिलेश यादव ने रविवार को जारी किए बयान में कहा कि एक साल पहले बीजेपी के काले कृषि कानूनों से पूरी कृषि अर्थव्यवस्था चौपट हो गई है. इसके विरोध में एक साल से किसानों का आंदोलन जारी है. आज भी किसानों का आक्रोश कम नहीं हुआ है.

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के शासनकाल में प्रदेश में सबसे ज्यादा हालत किसान की ही खराब हुई है. दोगुनी आय का सपना दिखाकर किसानों के वोट हथियाने वाली भाजपा के शासनकाल में किसानों को उनकी फसल का लाभकारी मूल्य तक नहीं मिला. उन्होंने कहा कि क्रय केन्द्रों पर किसानों का अनाज खरीदा नहीं जा रहा है. इससे किसान फसल को बिचौलियों के हाथों कम दाम में बेचने पर मजबूर हैं.

CM योगी का दावा- यूपी में युवाओं को चार साल में मिली 4 लाख सरकारी नौकरी

सपा अध्यक्ष ने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि यूपी में चीनी मिलों पर किसानों का 20 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का गन्ना मूल्य बकाया है और किसानों की कहीं सुनवाई नहीं हो रही है. उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के बाद प्रदेश में समाजवादी सरकार बनने पर ही किसानों के साथ न्याय होगा.

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार के किसान कल्याण के खोखले दावे सिर्फ विज्ञापनों पर ही सीमित होकर रह गए हैं. किसानों के इस्तेमाल की सभी चीजें महंगी करने और उसे दिए आश्वासनों को पूरा न करके बीजेपी ने अपने विकास मॉडल की पोल खुद ही खोल दी है.

UP कोरोना कर्फ्यू: वाराणसी, गौतमबुद्ध नगर, मुजफ्फरनगर व गाज़ियाबाद भी सोमवार से अनलॉक

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें