राम मंदिर निर्माण में आई बड़ी परेशानी, समाधान खोजने में लगे देश भर के IIT एक्सपर्ट

Smart News Team, Last updated: Fri, 1st Jan 2021, 11:52 PM IST
  • राम मंदिर निर्माण की नींव के नीचे सरयू नदी की धारा मिलने से आई परेशानी के समाधान के लिए देश भर के जाने-माने आईआईटी एक्सपर्ट से मदद मांगी गई है.
अयोध्या के राम मंदिर का निर्माण 14 जनवरी से शुरू होगी.

लखनऊ. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए प्रस्तावित जगह पर नींव की नीचे सरयू नदी की धारा मिलने से निर्माण कार्य में परेशानी आई है. इसके लिए देश के आईआईटी एक्सपर्ट से मदद मांगी गई है. उनको इस समस्या के समाधान के खोज के लिए लगा दिया गया है. आपको बता दें कि 14 जनवरी से राम मंदिर का निर्माण शुरू होना है.

इस बारे में विश्व हिंदू परिषद के केन्द्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि इस समस्या का समाधान हर हाल में जनवरी के पहले सप्ताह में खोज लिया जाएगा क्योकि मंदिर निर्माण आरंभ करने के लिए 14 जनवरी की तारीख तय है. उस दिन से पूरी शक्ति के साथ श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य आरंभ हो जाएगा.

सीएम योगी का ऐलान, यूपी में पूरा होगा अपने घर का सपना, सरकार कर रही प्रयास

विश्व हिंदू परिषद के केन्द्रीय उपाध्यक्ष ने कहा कि मंदिर को दीर्घकाल तक स्थायी बनाए रखने के लिए पत्थर और तांबे के विशेष संयोजन से मंदिर को आकार दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि इस पद्धति से निर्माण करने में कार्य की लागत कई गुना बढ़ जाएगी. ऐसे में 11 करोड़ लोगों के बीच जाकर धन संग्रह करने का लक्ष्य रखा गया है. धन संग्रह के कार्य में चार लाख से अधिक कार्यकर्ता लगाए जाएंगे.

नए साल पर अखिलेश ने लिया पिता का आशीर्वाद, मुलायम ने कहा-सपा सरकार बनाने में जुटे

इसके पहले श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष स्वामी गोविंद देव गिरीजी महाराज ने कहा कि मंदिर के लिए चंदा जमा करने का राष्ट्रव्यापी अभियान 15 जनवरी को शुरू किया जाएगा. उन्होंने कहा कि अयोध्या में बनने वाला राम मंदिर सभी श्रद्धालुओं को जोड़ेगा और उत्तर प्रदेश का ये शहर विश्व की सांस्कृति राजधानी के रूप में उभरेगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें