लखनऊ नगर निगम के कचरा वाहन खरीदने में हुआ घोटाला, ज्यादा पैसे देकर खरीदे गए

Smart News Team, Last updated: Wed, 3rd Feb 2021, 1:30 PM IST
  • लखनऊ नगर निमग में कचरा वाहन खरीदने में एक घोटाला सामने आ रहा है. कुछ महीने पहले विभाग के अधिकारियों ने डीलर से ओवररेट पर वाहन खरीदे थे जो कुछ ही महीनों में खराब हो गए. वहीं अब नए वाहन खरीदने पर विभाग को लगभग 87 हजार रूपये का फायदा हो रहा है.
नगर निगम की ओर से खरीदे गए वाहन खराब होने लगे है. ( सांकेतिक फोटो )

लखनऊ: नगर निगम में कचरा वाहन खरीदने के लेकर एक घोटाला सामने आ रहा है. कुछ महीने पहले विभाग ने डीलर से ओवररेट पर वाहन खरीदे थे. जिसमें से अधिकांश वाहनों की स्थिति बेकार हो गई है. नगर निगम अब एक बार फिर से नई कचरा वाहन खरीदने की योजना बना रहा है जिसमें विभाग को एक वाहन खरीदने पर 87 हजार रूपये से ज्यादा की बचत हो रही है. इससें विभाग के अधिकारी अंदाजा लगाने की कोशिश कर रहे है कि कुछ दिनों पहले डीलर से ओवररेट पर खरीदे गए वाहनों में घपले की अंशाका नजर आने लगी है.

कुछ महीने पहले लखनऊ नगर निगम ने शहर से कचरा उठाने के लिए 220 वाहन खरीदे थे. कंपनी ने कचरा वाहन का डिजाइन तैयार करके नगर निगम को बेच दिया था. विभाग ने इन वाहनों का प्रयोग गीले और सूखे कूड़े को अलग-अलग रखने के लिए किया था. जानकारी के अनुसार विभाग ने एक वाहन की कीमत 7.17 लाख थी. इन वाहनों को खरीदने में शासन में तैनात एक अफसर की भी मुख्य भूमिका रही थी. यह सभी वाहन दो सिलिंडर वाहन थे जिनकी 45 हजार हॉर्स पावर की इंजन क्षमता है.

किसान आंदोलन: मायावती बोलीं- दिल्ली बॉर्डर पर कंटीले तारों और कीलों की बैरिकेडिंग उचित नहीं

नई वाहनों की हालत खस्ता होने के कारण नगर निगम ने एक बार फिर से करीब 210 वाहन खरीदने के लिए टेंडर खोला है. इसपर एक कंपनी ने 6.32 लाख रुपये में वाहन देने पर सहमति दी है जिसमें तीन सिलिंडर के साथ 80 हजार हार्स पॉवर की क्षमता होगी. अगर विभाग और कंपनी की यह डील हो जाती है तो नगर निगम को इस बार लगभग एक करोड़ 90 लाख रूपये का फायदा हो सकता है.

UP में गंदगी फैलाने वालों की अब खैर नहीं, सरकार उठाने जा रही बड़ा कदम, जानें

ऐप के फेर ने फंसाया 8 हजार नगर निगम कर्मियों का वेतन, जानें पूरा मामला

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें