कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व नगर विकास मंत्री नरेश चन्द्रा का PGI में निधन

Smart News Team, Last updated: Sat, 13th Feb 2021, 10:11 PM IST
  • ऐशबाग को जोड़ने के लिए पुल के अलावा पुराने लखनऊ में साफ पानी की सप्लाई के लिए सेकेंड वाटर वर्क्स बनवाने को श्रेय उन्हीं को जाता है. पहली बार राजधानी में मशीन से सड़कें बनवाने का कार्य भी उन्होंने ही शुरू करवाया. साथ ही रिवर बैंक कालोनी में वृद्धाश्रम बनवाया.
शनिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व नगर विकास मंत्री नरेश चन्द्रा का निधन हो गया.

लखनऊ- शनिवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व नगर विकास मंत्री नरेश चन्द्रा का पीजीआई में निधन हो गया. बीते काफी समय से वह बीमार चल रहे थे. उन्होंने अपना राजनीतिक सफर 1957 में शुरू किया था. स्वर्गीय चन्द्रा को उनके विकास कार्यों के लिए जाना जाता है. वह पहली बार वर्ष 1985 में विधायक चुने गए थे. इसके बाद 1987 में नगर विकास मंत्री की जिम्मेदारी संभाली.

ऐशबाग को जोड़ने के लिए पुल के अलावा पुराने लखनऊ में साफ पानी की सप्लाई के लिए सेकेंड वाटर वर्क्स बनवाने को श्रेय उन्हीं को जाता है. पहली बार राजधानी में मशीन से सड़कें बनवाने का कार्य भी उन्होंने ही शुरू करवाया. साथ ही रिवर बैंक कालोनी में वृद्धाश्रम बनवाया. वह मंगलम, डॉ. राजेन्द्र प्रसाद स्मारक सोसाइटी, ओएस्का समेत कई सामाजिक संस्थाओं से भी जुड़े रहे. इसके अलावा लखनऊ और अवध विश्वविधालय के कार्यकारी सदस्य रहे.

CM योगी ने किया स्वामित्व योजना का शुभारंभ, जानें कैसे मिलेगी डिजिटल खतौनी

उन्होंने कई बड़ी सरकारी योजनाएं अपने समय में लागू करवाई. अपने पीछे वह दो पुत्री और पत्नी को छोड़ गए. उनकी पत्नी डॉ. पीएल चन्द्रा मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के पद से रिटायर हुई हैं. उनकी दोनों पुत्रियों डॉ. नमिता चन्द्रा, डॉ. तूलिका चन्द्रा, दामाद डॉ. रवि अग्रवाल और डॉ. राजीव अग्रवाल भी डॉक्टर हैं.

UP पंचायत चुनाव 2021: जानिए किस जिले में सबसे ज्यादा ब्लॉक प्रमुख बनेंगी महिलाएं

मनी लॉड्रिंग के मामले में गायत्री प्रजापति से ED की पूछताछ शुरू

अभ्युदय : दो दिन में तीन लाख ने करवाया रजिस्ट्रेशन, एंट्री बंद, टेस्ट आज

AAP का ऐलान- यूपी में हमारी सरकार बनी तो कर्मचारियों की पुरानी पेंशन होगी बहाल

लखनऊ: स्पा पार्लर में चल रहा था सेक्स रैकेट, पुलिस रेड में 10 महिला समेत कई अरेस्ट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें