RSS नेता इंद्रेश कुमार ने ओवैसी को भारत की एकता और अखंडता के लिए बताया खतरा

Shubham Bajpai, Last updated: Sun, 17th Oct 2021, 10:19 AM IST
  • आरएसएस के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने ओवैसी के आरएसएस को दिए बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि ओवैसी भारत की एकता और अखंडता के लिए खतरा हैं. वह राष्ट्र के खिलाफ और दुश्मनों के साथ खड़े हैं. इससे पहले ओवैसी ने कहा था कि हमें आरएसएस के धोखे और गांधी की देशभक्ति में किसी एक को चुनना होगा.
ओवैसी पर RSS के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने साधा निशाना

लखनऊ. विजयदशमी के मौके पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंचालक डॉ.मोहन भागवत के भाषण को ओवैसी ने झूठा और अर्धसत्य से भरा बताया था. जिस पर अब आरएसएस के वरिष्ठ नेता इंद्रेश कुमार ने एआईएमआईएम प्रमुख असुदद्दीन ओवैसी पर निशाना साधा. इंद्रेश कुमार ने कहा कि ओवैसी भारत की एकता और अखंडता के लिए खतरा हैं. उनके बयानों से पता चलता है कि वह राष्ट्र के खिलाफ और दुश्मन के साथ खड़े हैं.

ओवैसी हो गए गुमराह

इंद्रेश कुमार ने कहा कि एआईएमआईएम चीफ ओवैसी गुमराह हो गए हैं. जो आरएसएस और गांधी की देशभक्ति के बीच अंतर करता है, वह सच्चा मुसलमान और भारतीय नहीं हो सकता है. वह निश्चित तौर पर एक गुमराग व्यक्ति हैं और उनके बयानों से यह बात साफ जाहिर होती है.

एयरपोर्ट पर घरेलू टर्मिनल के बाहर रेस्त्रां का शुभारंभ, यात्रियों को लेने-छोड़ने आने वालों को मिलेगी राहत

ओवैसी करते हैं राष्ट्र को विघटित करने की कोशिश

इंद्रेश कुमार ने ओवैसी को देश तोड़ने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वो हमेशा राष्ट्र को विघटित करने की कोशिश करते हैं. उन्होंने कभी भी राष्ट्र को एकीकृत करने का प्रयास नहीं किया और न ही वो करेंगे. महात्मा गांधी और आरएसएस की देशभक्ति दुनिया में प्रसिद्ध है. उसमें अंतर करना गलत है.

अनियंत्रित जनसंख्या वृद्धि निरक्षरता और बेरोजगारी की ओर ले जा सकती

देश की बढ़ती जनसंख्या के प्रति इंद्रेश ने आगाह किया. इंद्रेश ने कहा कि देश की जनसंख्या में अनियंत्रित वृद्धि भारत को निरक्षरता और बेरोजगारी की ओर ले जा सकती है.

कश्मीर में आतंक, श्रीनगर में बिहारी की हत्या, पुलवामा में UP के मजदूर को मार डाल

बता दें कि दशहरे और आरएसएस के 96वें स्थापना दिवस पर संघ प्रमुख मोहन भागवत ने संघ के स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए बढ़ती जनसंख्या पर चिंता जाहिर की थी. जिस पर ओवैसी ने मोहन भागवत पर निशाना साधते हुए उनके बयान को झूठा और अर्धसत्य से भरा बताया. इस दौरान ओवैसी ने लगातार कई ट्वीट कर मोहन भागवत की जनसंख्या नीति, अनुच्छेद 370 को निरस्त करने समेत कई मुद्दों पर तीखी प्रतिक्रिया दी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें