शिवपाल यादव का ऐलान- साइकिल के चिन्ह पर चुनावी मैदान में उतरेंगे प्रसपा नेता

Haimendra Singh, Last updated: Mon, 17th Jan 2022, 9:56 AM IST
  • प्रगतिशील समाज पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा कि प्रसपा नेता समाजवादी पार्टी के चुनाव चिन्ह साइकिल के निशान पर ही चुनावी मैदान में उतरेंगे. अपर्णा यादव को सलाह देते हुए शिवपाल ने कहा, कि उन्हें सपा में ही रहकर काम करना चाहिए.
शिवपाल यादव. ( फाइल फोटो)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कहा है कि इस विधानसभा चुनाव में प्रसपा के उम्मीदवार समाजवादी पार्टी के चिन्ह पर ही चुनावी मैदान में उतरेंगे. उन्होंने रविवार को कहा, कि उनकी पार्टी को नया चुनाव निशान मिला है लेकिन समय कम है और इसका प्रचार जनता के बीच नहीं कर पाएंगे. इसके अलावा भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए शिवपाल ने कहा, कि भाजपा को पहले से ही पता था कि चुनावी रैलियों पर रोक लगने वाली है इसलिए उन्होंने पहले रैलियां कर ली और वर्चुअल रैलियों की तैयारी भी कर ली. वहीं अपर्णा यादव के बीजेपी में जानने की बात पर उन्होंने सलाह दी कि अपर्णा को सपा में ही रहकर काम करना चाहिए, अभी उन्हें बहुत कुछ सीखना है.

रविवार को पत्रकारों के बात करते हुए शिवपाल ने कहा, कि उन्होंने अखिलेश यादव को नेता मान लिया है. अब टिकट के लिए सब कुछ उन्हीं पर छोड़ दिया है. हम उम्मीद करते है कि टिकट केवल जीतने वाले उम्मीदवारों को ही दिए जाए. टिकट बटबारे के सभी फैसले अखिलेश यादव के ही है. इन फैसलों में हमारी कोई राय नहीं है. भाजपा पर निशाना हमला बोलते हुए उन्होंने कहा, कि उन्होंने रैलियों पर रोक लगने की जानकारी थी.

अपर्णा यादव ने BJP में शामिल होने की खबरों को अफवाह बताया, बोलीं- कभी नहीं छोड़ूंगी सपा

शिवपाल ने अपर्णा को दी सपा में रहने की सलाह

शिवपाल यादव ने मुलायम परिवार की छोटी बहू अपर्णा यादव को सलाह दी है कि वह सपा में ही रहें और काम करें. अभी उन्हें बहुत कुछ सीखना है. पत्रकारों के जवाब देते हुए उन्होंने कहा, कि वैसे इस सवाल का जवाब वहीं दे सकती हैं लेकिन हमारी राय मांगी जाए तो हम यही कहेंगे कि उन्हें सपा में रहकर ही कार्य करना चाहिए. उन्होंने कहा कि राजनीति में एकदम से कुछ नहीं मिलता है. उन्हें पहले पार्टी में काम करना होगा. उसके बाद ही उन्हें फल की इच्छा करनी चाहिए. बता दें कि अपर्णा यादव मुख्यमंत्री योगी और पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ कर चुकी हैं. अपर्णा यादव मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें