लखनऊ में सिख नेता का कांग्रेस के खिलाफ पोस्टर, दंगाइयों से नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति

MRITYUNJAY CHAUDHARY, Last updated: Wed, 6th Oct 2021, 6:15 PM IST
  • लखनऊ में सिख नेता ने कांग्रेस का नाम लिए बिना उनके विरोध में पोस्टर लगाए. साथ ही उन पोस्टर पर लिखा की 1984 दंगों के जिम्मेदारों से फर्जी सहानुभूति नहीं चाहिए.
सिख नेता ने लगया पोस्टर, लिखा- सिख दंगो के जिम्मेदारों से नहीं चाहिए फर्जी जिम्मेदारी

लखनऊ. लखनऊ ने सिख नेता ने कांग्रेस का नाम लिए बिना ही उसके विरोध में पोस्टर लगवाए है. जिसमें साफ तौर पर लिखा हुआ है कि जिन लोगों ने 1984 यानी सिख दंगों का कत्लेआम किया. उनका साथ नहीं चाहिए. हम न्याय की लड़ाई लड़ रहे है. दंगाइयों का साथ नहीं चाहिए. लखनऊ में नहीं चाहिए फर्जी सहानुभूति के नारों के साथ लगाए गए पोस्टर में नाम गुरुनानक वाटिका कमेटी आलमबाग अध्यक्ष रविन्द्र पाल सिंह का नाम लिखा हुआ है.

कांग्रेस के खिलाफ लखनऊ में पोस्टर लगवानें वाले रविन्द्र सिंह का कहना हैं कि जिस तरह से कांग्रेस के नेता सिखों का हमदर्द बनने का काम कर रही है, वह मात्र छलावा है. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस 1984 की घटना को भूल गई है जिसका जख्म आज भी सिख समाज झेल रहा है. कांग्रेस के खिलाफ लखनऊ में एक या दो नहीं बल्कि और भी अन्य पोस्टर लगाए गए है. जिसके एक दूसरे पोस्टर में लिखा है कि खून से भरा है दामन तुम्हारा, तुम क्या दोगे साथ हमारा, नहीं चाहिए साथ तुम्हारा.

योगी सरकार ने विपक्ष के लिए खोला लखीमपुर खीरी बॉर्डर, कांग्रेस, आप नेता सबसे पहले

इसके साथ ही रविन्द्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने 1984 में सिखों को जख्म दिया था और आज राजनीति करके उन जख्मो5 पर मरहम लगाने का नाटक कर रही है. साथ ही उन्हीने बताया कि उन्होंने बताया कि अमौसी एयरपोर्ट के अलावा शहर में कई जगहों पर ये पोस्टर लगाए गए है. इसके साथ ही लखनऊ के अलावा सीतापुर, लखीमपुर खीरी में भी ऐसे पोस्टर लगा कांग्रेस के नाटक की हकीकत बताएंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें