अखिलेश यादव बोले- कोरोना वैक्सीन को लेकर BJP पर बोला था, वैज्ञानिकों पर नहीं

Smart News Team, Last updated: Mon, 4th Jan 2021, 4:31 PM IST
  • समाजवादी पार्टी के राष्ट्रिय अध्यक्ष एवं यूट प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस किया. इस प्रेस वार्ता में अखिलेश यादव ने कहा कि उन्होंने ने कभी भी वैज्ञानिको के ऊपर बयान नहीं दिया है.
अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के आयोजन किया. इस प्रेस वार्ता में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि उन्होंने ने भारत के वैज्ञानिकों के ऊपर भी बयान नहीं दिया. बल्कि हम यह जनना चाहते है कि गरीबों को वैक्सीन कब लगेगी और क्या उन्हें ये फ्री में लगेगी? इसके साथ ही उन्होंने भाजपा को घेरते हुए कहा कि बीजेपी के के फैसलों पर जनता का विश्वास नही है. वहीं उन्होंने पत्रकारों को सबसे पहले कोरोना वैक्सीन लगाने की बात कही.

इस प्रेस वार्ता में अखिलेश यादव ने आगे कहा कि आज का युवा नौकरी नहीं मिलने पर आत्महत्या कर रहा है. यदि सरकार ने अपने सभी वादों को पूरा किया होता तो आज युवा खुशहाल होते. वहीं इस लॉक डाउन में सबसे अधिक परेशान व्यापारी हुए है. व्यापार बन्द होने के बावजूद भी उन्होंने बिजली का बिल जमा किया है. तो प्रतापगढ़ के व्यापारी की हत्या भी इसी सरकार में हुई है. यदि हमारी सरकार बनी तो व्यापारियों को कड़ी सुरक्षा मिलेगी.

अखिलेश यादव के बयान पर गिरिराज सिंह बोले- वे चुपके से लगवा लेंगे वैक्सीन

उन्होंने गाजियाबाद में रविवार को गिरे श्मशान घाट की छत गिरने पर कहा कि वहां की छत बालू से बनाई गई थी. इस घटना के लिए बीजेपी ही जिम्मेदार है. वहीं इससे पहले वाराणसी में फ्लाईओवर गिरा था. जिसके लिए बीजेपी सरकार ही जिम्मेदार है. वहीं हादसे में मरे हुए लोगो को दो रुपए के बजाय 50-50 लाख रुपए देने की बात कही.

CMO जितेंद्र पाल की कोरोना के कारण मौत, सांस में तकलीफ के चलते हुए थे PGI भर्ती

पत्रकारों से बात करते हुए अखिलेश से सीएम योगी पर भी निशाना साधा. उन्होंने ने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कन्फ्यूज है हम कंफ्यूज है कि वह योगी है. अभी तक तो वह गोरखपुर में मेट्रो चला नहीं पाए लेकिन लखनऊ में मेट्रो चलाने का श्रेय खुद को देते है. इसी के साथ उन्होंने आने वाले चुनाव में किसी भी बड़ी पार्टी से गठबंधन नहीं करने की बात कही. साथ कहा कि अगर छोटे दल कभी भी उनसे आकर मिल सकते है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें