सपा प्रमुख अखिलेश यादव का तंज, BJP और RSS का स्वतंत्रता आंदोलन से कोई नाता नहीं

Smart News Team, Last updated: Tue, 10th Aug 2021, 9:57 AM IST
  • उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी और आरएसएस पर तंज कसते हुए कहा है की स्वतंत्रता आंदोलन में कोई सहयोग नहीं रहा है. बीजेपी का काकोरी शहीद स्मारक का आयोजन सिर्फ एक ढोंग है. पुलवामा हमले में शहीद के परिवार से मुख्यमंत्री का न मिलना शहीदों का अपमान है. 
सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा भाजपा और आरएसएस का स्वतंत्रता आंदोलन में कोई सहयोग नहीं.

लखनऊ. सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा-आरएसएस पर जमकर हमला बोला है. पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है की भाजपा और आरएसएस का भारत को आजादी दिलाने में कोई सहयोग नहीं है. भाजपा-आरएसएस ने स्वतंत्रता आंदोलन में कभी हिस्सा नहीं लिया है. भाजपा का काकोरी शहीद स्मारक का आयोजन करना भी एक ढोंग है. पुलवामा में शहीद परिवार को मुख्यमंत्री से मिलने नहीं दिया गया है. यह देश के शहीदों का अपमान है. समाजवादी पार्टी इस कृत्य की निंदा करती है. 

अखिलेश यादव ने सोमवार को अगस्त क्रांति पर अंग्रेजों भारत छोड़ों आंदोलन को याद किया. उन्होंने कहा है की 9 अगस्त को महात्मा गाँधी के आह्वान पर पुरे देश ने एकजुट होकर भारत छोड़ो आन्दोलन की शुरुआत की थी. इस आंदोलन में समाजवादी विचारधारा के नेता जयप्रकाश नारायण, डॉ राम मनोहर लोहिया और अरुणा आसिफ अली जैसे तमाम लोगों ने आंदोलन को मजबूत किया था. जिसके बाद आठ अगस्त 1942 की रात को भारत छोडो प्रस्ताव पारित हुआ था. आजादी में शहीद सैनानियों का सपना था की देश में किसान, मजदूर और युवाओं का राज स्थापित हो. समाजवादी पार्टी शहीदों के सपनों को साकार करेगी जहां हर व्यक्ति समुदाय मिलकर प्यार से रहेंगे. 

UP में अगले 24 घंटे के लिए मौसम विभाग का अलर्ट, कई इलाकों में भारी बारिश के आसार

अखिलेश यादव ने आगे कहा की भाजपा ने कभी देश के लिए शहादत नहीं दी इस लिए वो शहीदों का सम्मान करना नहीं जानती. जिस तरह से अंग्रेजों ने भारतीय समाज का बंटवारा करके राज किया, भाजपा भी उसी तरह से देश में सामाजिक सद्भाव खत्म कर राज करना चाहती है. समाज में व्यवस्था परिवर्तन करने के लिए समाजवादी पार्टी ने संकल्प लिया है.   

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें