लखीमपुर हिंसा को दो माह पूरे, अखिलेश बोले- किसानों की याद में जलाएं दीये, याद दिलाएं BJP की क्रूरता

Haimendra Singh, Last updated: Fri, 3rd Dec 2021, 2:15 PM IST
  • लखीमपुर हिंसा को दो महीने पूरे होने पर सपा नेता अखिलेश यादव ने कहा, कि उप्र के किसानों के सभी शुभचिंतकों और सपा व अन्य सहयोगी दलों से अपील है कि हर महीने की तीन तारीख को मनाए जानेवाले ‘लखीमपुर किसान स्मृति दिवस’ की कड़ी में 3 दिसंबर को ‘किसानों की शहादत’ का मान बढ़ाने के लिए स्मृति दीप जलाएं.
लखीमपुर हिंसा को लेकर अखिलेश यादव ने फिर बोला भाजपा पर हमला. (फाइल फोटो)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधा है. किसानों के साथ हुई लखीमपुर हिंसा को याद करते हुए अखिलेश यादव ने कहा, कि राज्य के किसानों के सभी शुभचिंतकों और सपा व अन्य सहयोगी दलों के कार्यकर्ताओं को ‘लखीमपुर किसान स्मृति दिवस’ की कड़ी में 3 दिसंबर को किसानों की शहादत बढ़ाते हुए उनकी स्मृति में दीप जलाने चाहिए. उन्होंने हमला बोलते हुए कहा, कि सभी को बीजेपी की क्रूरता को राज्य की जनता को याद दिलाएं. बता दें कि 3 अक्टूबर को यूपी के लखीमपुर खीरी हिंसा में 8 लोगों की मौत हो गई थी. जिसमें 4 किसान शामिल थे.

अखिलेश यादव ने गुरुवार की देर रात ट्वीट करते हुए कहा, “उप्र के किसानों के सभी शुभचिंतकों और सपा व अन्य सहयोगी दलों से अपील है कि हर महीने की तीन तारीख को मनाए जानेवाले ‘लखीमपुर किसान स्मृति दिवस’ की कड़ी में 3 दिसंबर को ‘किसानों की शहादत’ का मान बढ़ाने के लिए स्मृति दीप जलाएं और लोगों को भाजपा की क्रूरता की याद दिलाएं!”

पराग अग्रवाल के CEO बनने के बाद twitter ने उठाया बड़ा कदम, 6 देशों के 3500 अकाउंट्स को किया बंद, जानें वजह

लखीमपुर हिंसा में कब क्या हुआ

3 अक्टूबर 2021 को लखीमपुर में हुई हिंसा में 8 लोगों की मौत हो गई थी जिसमें 4 किसान, 3 बीजेपी कार्यकर्ता और एक पत्रकार का था. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा पर किसानों को गाड़ी से कुचलने का आरोप लगा. सभी राजनीतिक दल आशीष मिश्र को गिरफ्तार करने की मांग करने लगे. कुछ दिनों बाद आखिर यूपी पुलिस ने आशीष को गिरफ्तार कर लिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें