IT रेड पर SP नेता राजीव राय बोले- मैं लोगों की मदद करता हूं ये सरकार को नहीं आया पसंद

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 18th Dec 2021, 10:54 AM IST
  • यूपी में आज समाजवादी पार्टी के कई नेताओं के घर सुबह से इनकम टैक्स की ताबड़तोड़ छापेमारी चल रही है. इसमें सपा के वरिष्ठ नेता व अखिलेश यादव के करीबी राजीव राय भी शामिल है. राजीव ने इस रेड को लेकर सरकार पर हमला करते हुए कहा कि मैं लोगों की मदद करता हूं और सरकार को यह पसंद नहीं आया.
IT रेड पर SP नेता राजीव राय बोले, मैं लोगों को मदद करता हूं ये सरकार को नहीं आया पसंद (फोटो सभार लाइव हिंदुस्तान)

लखनऊ. राजधानी से लेकर मऊ तक कई समाजवादी पार्टी के नेताओं के खिलाफ आयकर विभाग की ताबड़तोड़ रेड जारी है. इन नेताओं में समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव के करीबी व पार्टी के सचिव राजीव राय, लखनऊ में जैनेंद्र यादव, मैनपुर में मनोज यादव, राहुल भसीन और नीटू यादव के ठिकानों में आईटी की रेड जारी है. इस रेड को लेकर राजीव राय की प्रतिक्रिया सामने आई है.

 राजीव ने भाजपा सरकार पर हमला बोलेत हुए कहा कि मैं लोगों की मदद करता हूं और सरकार को यह पसंद नहीं आया.

UP में सपा नेता राजीव राय, जैनेंद्र यादव और मनोज यादव के घर इनकम टैक्स का छापा

सपा कार्यकर्ताओं से कहा कुछ न करो होने दो रेड

रेड पर प्रतिक्रिया देते हुए राजीव राय ने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मेरा कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है. मेरे पास कोई अवैध पैसा नहीं है. मेरा लोगों की मदद करना सरकार को पसंद नहीं आया. उन्होंने सपा कार्यकर्ताओं से कहा कि कुछ भी ना करो. वीडियो रिकॉर्डिंग हो जाएगी और फिर थाने से एफआईआर होगी इसलिए रेड होने दो.

सपा कार्यकर्ताओं के हंगामे के चलते भारी संख्या में पुलिस बल तैनात

सपा नेता राजीव राय के घर के बाहर टीम ने पहले से काफी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया है. इस कार्यवाई की जानकारी मिलते ही काफी सपा कार्यकर्ता राय के घर के बाहर इकट्ठा हो गए हैं. जिसके बाद उन्होंने हंगामा और नारेबाजी शुरू कर दी. जिसको मौजूद पुलिस बल से संभालते हुए शांत कराया.

इलाहाबाद हाईकोर्ट : यूनिवर्सिटी की UG, PG छात्राओं को मिलेगा मातृत्व अवकाश

सपा कार्यकर्ताओं ने बताया बदले की कार्रवाई

सपा कार्यकर्ताओं ने भाजपा सरकार पर बदले की कार्रवाई का आरोप लगाया. सपा कार्यकर्ताओं ने कहा कि चुनाव से पहले सरकार द्वारा ये बदल की कार्रवाई की जा रही है. सरकार के खिलाफ आवाज उठाने के कारण ये छापेमारी हो रही है. इस मामले में सपा प्रमुख अखिलेश यादव या किसी अन्य शीर्ष के नेता क कोई बयान सामने नहीं आया है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें