यूपी विधानसभा में योगी ने अब्बाजान कहा तो अखिलेश की सपा के विधायक भड़के

Smart News Team, Last updated: Tue, 17th Aug 2021, 4:23 PM IST
  • उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र शुरू हो गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोला है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुलायम सिंह के लिए अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल कर तंज कसा है. सीएम योगी ने कहा है की जो वैक्सीन लगवाने के लिए मना करते थे आज उनके अब्बाजान के वैक्सीन लगवाते ही सभी लोग वैक्सीन लगवाने लगे हैं. 
उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र में सीएम योगी के अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल करने पर सपा विधायकों का हंगामा.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अब्बाजान शब्द पर राजनीती बढ़ती जा रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर मुलायम सिंह के लिए अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल किया है. सीएम योगी आदित्यनाथ ने यूपी विधानसभा सत्र के दौरान कहा है की पहले लोग कहते थे, की मोदी वैक्सीन नहीं लगवाएंगे. लेकिन अब्बाजान के वैक्सीन लगवाते ही सभी लोग वैक्सीन लगवाने लगवाने लगे हैं. सीएम योगी ने तंज कसते हुए कहा है की अब्बाजान कबसे असंसदीय शब्द हो गया है. सपा को मुस्लिम वोट तो चाहिए लेकिन अब्बाजान शब्द से परहेज है. सीएम योगी ने कहा है की प्रदेश में आज प्रतिदिन 4 लाख कोरोना टेस्ट करने की क्षमता है. पीएम नरेंद्र मोदी और प्रदेश में हमारी सरकार ने कोरोना काल में खूब काम किया. 

सीएम योगी आदित्यनाथ के अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल करने पर सपा के विधायक भड़क गए. विरोधी दल के नेता अहमद हसन ने अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल करने पर जमकर विरोध किया.  अहमद हसन ने कहा है की सीएम की भाषा तकलीफदेह है. प्रदेश के सीएम होने के नाते उन्हें ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. सपा विधायकों ने के हंगामे के सदन की कार्रवाई रोकी गई. सपा के विधायक हंगामा करते हुए वेल में जा पहुंचे. हालांकि इस दौरान सीएम योगी ने कहा है की मैंने किसी भी व्यक्ति का नाम लेकर अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है.

लखनऊ की सड़कों पर युवती का हाई वोल्टेज ड्रामा, नशे में टल्ली होकर किया हंगामा

सीएम योगी आदित्यनाथ इससे पहले भी एक बार मुलायम सिंह के लिए अब्बाजान शब्द का इस्तेमाल कर चुके हैं. जिस पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कढ़ी आपत्ति जाहिर की थी. उन्होंने कहा था की मुख्यमंत्री को अपनी भाषा पर संयम रखना चाहिए. अगर मुख्यमंत्री मेरे पिता के बारे में कुछ कहेंगे, तो मैं भी उनके पिता जी के बारे में कुछ भी कह सकता हूं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें