लखनऊ में रजिस्टर्ड मैचों के लिए स्टेडियम उपलब्ध नहीं, पहले ही हुए सभी बुक

Smart News Team, Last updated: 10/12/2020 11:06 PM IST
  • कोरोना संक्रमण के कारण हुए लॉकडाउन में मार्च में क्रिकेट लीग बंद हो गई थी. सिर्फ ए-डिविजन के मैच ही पूरे हो पाए थे. बी-डिविजन के पांच, सी-डिविजन के 40 और डी-डिविजन के 26 मैच नहीं हो पाए थे. सीएएल ने दो दिन पहले फैसला किया कि 16 दिसम्बर से पिछले सत्र के बाकी बचे मैच कराए जाएंगे.
केडी सिंह बाबू स्टेडियम में फिलहाल स्प्रिंकलर सिस्टम लग रहा है.

लखनऊ- राजधानी की क्रिकेट लीग के पिछले सत्र के 71 मैच बाकी हैं और वक़्त है महज 28 दिन. राजधानी के क्रिकेट मैदान निजी क्लबों और अकादमियों ने रिज़र्व करवा लिए हैं. क्रिकेट एसोसिएशन लखनऊ (सीएएल) के पास सिर्फ शहर से दूर डा. अखिलेश दास स्टेडियम ही है. एक स्टेडियम में 28 दिनों में इतने मैच नहीं हो सकते. सीएएल अब कह रहा है कि स्टेडियम उपलब्ध होंगे तो मैच कराए जाएंगे नहीं तो इसमें वक़्त लगेगा.

बताते चलें कि कोरोना संक्रमण के कारण हुए लॉकडाउन में मार्च में क्रिकेट लीग बंद हो गई थी. सिर्फ ए-डिविजन के मैच ही पूरे हो पाए थे. बी-डिविजन के पांच, सी-डिविजन के 40 और डी-डिविजन के 26 मैच नहीं हो पाए थे. सीएएल ने दो दिन पहले फैसला किया कि 16 दिसम्बर से पिछले सत्र के बाकी बचे मैच कराए जाएंगे. इसके बाद 10 जनवरी से नए सत्र के मुकाबले शुरू होंगे. सीएएल ने पिछले सत्र के बचे मैचों का कार्यक्रम भी जारी कर दिया है.

लखनऊ फुटबाल लीग: ब्रायन इलेवन ने शिव अकादमी को 5-0 से हराया

कार्यक्रम जारी होने के बाद सीएएल को राजधानी में स्टेडियम नहीं मिल पा रहे हैं. चारबाग रेलवे स्टेडियम, पूर्वोत्तर रेलवे स्टेडियम, माइक्रोलिट जिमखाना, जयपुरिया, चौक स्टेडियम, रास बिहारी तिवारी स्टेडियम आदि खाली नहीं हैं. इन सभी जगह निजी क्लब या अकादमी कोई न कोई मैच करा रही है. केडी सिंह बाबू स्टेडियम में स्प्रिंकलर सिस्टम लग रहा है. ऐसे में वहां मैच नहीं हो सकते. सीएएल के पास सिर्फ बीबीडी यूनीवर्सिटी स्थित डा. अखिलेश दास स्टेडियम है. इसमें इतने मैच इतने कम दिनों में संभव नहीं है. पिछले सत्र के मुकाबले अगर जल्द पूरे नहीं होते तो नये सत्र में देरी होगी. सीएएल के सचिव केएम खान ने बताया कि रजिस्टर्ड और ऑफिसियल क्रिकेट प्रतियोगिताओं के लिए मैदान उपलब्ध नहीं हैं. जबकि निजी क्लब और अकादमियों मैच करा रही हैं. ऐसे में वह खेल विभाग को पत्र लिखेंगे कि सीएएल के क्रिकेट मुकाबलों और लीग के लिए स्टेडियमों की बुकिंग में प्राथमिकता दी जाए.

पेरिस ओलम्पिक 2024 में शामिल होगा ब्रेक डांस, यूपी के डांसर्स में खुशी की लहर

लखनऊ में सेक्सटॉर्शन गैंग का खुलासा, अमीरों को फंसाकर ब्लैकमेल करती थीं लड़कियां

पत्नी को तलाक बिना प्रेमिका संग लिव इन में रह रहा UP पुलिस का दारोगा होगा बर्खास्त!

मैराथन में 55 साल की आशा सिंह ने 12 घंटे में 100 KM की दौड़ लगाकर बनाया ये रिकॉर्ड

हज यात्रा 2021 के लिए संभावित खर्चे में की गई कटौती, आवेदन तारीख भी बढ़ी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें