UP में फर्जी शिक्षा बोर्ड्स का गोरखधंधा, लखनऊ में बंद तो प्रयागराज से शुरू

Smart News Team, Last updated: Mon, 28th Sep 2020, 8:41 AM IST
  • लखनऊ में एसटीएफ ने फर्जी शिक्षा बोर्ड का भांडाफोड़ 2018 में किया जिसके बाद वहां से बोर्ड का संचालन बंद हो गया. लेकिन फर्जी शिक्षा बोर्ड के संचालकों ने प्रयागराज से इसका संचालन शुरू कर दिया है. लोगों को ठगने के लिए इनकी वेबसाइट पर यूपी सरकार के लोगो का भी धड़ल्ले से इस्तेमाल हो रहा है.
UP में फर्जी शिक्षा बोर्ड्स का गोरखधंधा, लखनऊ में बंद तो प्रयागराज से शुरू

लखनऊ. लखनऊ एसटीएफ ने साल 2018 में उत्तर प्रदेश राज्य मुक्त विद्यालय परिषद के नाम से इंदिरानगर में फर्जी बोर्ड बनाकर लोगों को ठगने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया था. फर्जी बोर्ड के प्रबंधक राजजमन गौड़ समेत गिरोह के सात लोगों को गिरफ्तार किया गया था. लखनऊ से तो इस बोर्ड का संचालन बंद हो गया था लेकिन यह फर्जी बोर्ड प्रयागराज में जारी है.

जिला विद्यालय निरीक्षक लखनऊ डॉ. मुकेश कुमार सिंह को शिकायत मिली जिसके बाद उन्होनें प्रयागराज के अधिकारियों को सूचित कर दिया. फर्जी बोर्ड की वेबसाइट के अनुसार इसका संचालन प्रयागराज के फाफामऊ इलाके से हो रहा है.

फर्जी बोर्ड के संचालकों ने लोगों को भ्रमित करने के लिए साइट पर यूपी सरकार का लोगो भी लगाया है. इस बोर्ड के कई लोगों को पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है लेकिन फिर कुछ समय में यह दूसरी जगह से वेबसाइट को शुरू कर देते हैं. 

रक्षक भाई ही बना हैवान, मां की शह पर 8 साल से छोटी बहन का कर रहा था रेप, अरेस्ट

यूपी में मुक्त शिक्षा बोर्ड के नाम पर अवैध धंधा पैर पसारता जा रहा है. लखनऊ में राजकीय मुक्त विद्यालयी शिक्षाा संस्सथान उत्तर प्रदेश लखनऊ के नाम पर यह शिक्षा की धोखाधड़ी का धंधा चल रहा है. riosup.org.in वेबसाइट से छात्रों को ठगा जा रहा है. प्रदेश में इस तरह के कई फर्जी शिक्षा बोर्ड चल रहे हैं.

कानपुर: 9 साल की बच्ची से पिता के दोस्त ने की रेप की कोशिश,लोगों ने पीटा,अरेस्ट

www.upsosb.ac.in से भी शिक्षा का गोरखधंधा चल रहा है जिसमें वेबसाइट पर हाई स्कूल, इंटरमीडिएट से लेकर डिप्लोमा डिग्री तक बांटी जा रही है. एसटीएफ ने जांच में पाया कि यह वेबसाइट चालक बिहार, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली समेत कई राज्यों में अपना स्टडी सेंटर बनाकर ऑनलाइन सर्टिफिकेट जारी करते हैं. वेबसाइट को असली दिखाने के लिए भारत और स्वच्छता अभियान का लोगो भी लगाया हुआ है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें