कानपुर, मेरठ, आगरा मेडिकल कॉलेज टेली ICU से जुड़ेंगे, कमांड सेंटर PGI लखनऊ

Smart News Team, Last updated: Tue, 15th Dec 2020, 11:59 PM IST
  • यूपी के कानपुर, मेरठ, आगरा समेत 6 मेडिकल कॉलेजों को टेली आईसीयू की सुविधा से जोड़ा जाएगा. इससे इन मेडिकल कॉलेजों में आईसीयू के 200 बेड बढ़ जाएंगे. पावर ग्रिड कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड इस प्रोजेक्ट के लिए सात करोड़ रुपये देगा. 
कानपुर, मेरठ, आगरा समेत 6 मेडिकल कॉलेजों को टेली आईसीयू की सुविधा से जोड़ा जाएगा.

लखनऊ. यूपी के मेडिकल कॉलेजों और अस्पतालों में अब आईसीयू वार्ड में सुधार होगा. कानपुर, मेरठ, आगरा समेत 6 मेडिकल कॉलेजों को टेली आईसीयू से जोड़ा जाएगा. इन सभी का सेंट्रल कमांड सेंटर पीजीआई लखनऊ को बनाया जाएगा. इस सुविधा से इन मेडिकल कॉलेजों में आईसीयू के 200 बेड बढ़ जाएंगे. इससे मरीजों को समुचित इलाज मिल सकेगा. एचयूबी एंड स्पोक मॉडल पर यह प्रोजेक्ट काम करेगा. 

लखनऊ पीजीआई के निदेशक डॉ. आरके धीमन ने बताया कि यूपी के 6 मेडिकल कॉलेजों में इस सुविधा के लिए पीजीआई की स्थापना दिवस पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने पावर ग्रिड कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड के साथ एमओयू का करार हुआ था. पावर ग्रिड कारपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड इस प्रोजेक्ट के लिए सात करोड़ रुपये देगा. 

हाईकोर्ट में आम्रपाली ग्रुप के CMD अनिल शर्मा और ऑडिटर की जमानत याचिका खारिज

डॉ. आरके धीमन ने बताया कि सभी अस्पतालों के टेली आईसीयू को लखनऊ पीजीआई के सेंटर से कमांड किया जाएगा. उन्होंने बताया कि लखनऊ पीजीआई के आईसीयू विशेषज्ञ को इन 6 मेडिकल कॉलेजों के डॉक्टर और स्वास्थयकर्मियों को को टेली आईसीयू का प्रशिक्षण दिया जाएगा. आईसीयू विशेषज्ञ की निगरानी में इन 6 मेडिकल कॉलेजों में टेली आईसीयू को बनाया जाएगा. 

आवास विकास परिषद की अयोध्या योजना में फंसा पेच

पीजीआई निदेशक डॉ. आरके धीमन बताते ने बताया कि यूपी के कानपुर, मेरठ, आगरा के अलावा गोरखपुर, प्रयागराज और झांसी के मेडिकल कॉलेजों में टेली आईसीयू स्थापित किया जाएगा. इस प्रोजेक्ट पर जल्द ही काम शुरू हो जाएगा. उन्होंने बताया कि इस सुविधा से मरीजों के इलाज में मदद मिलेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें