TGT-PGT के लिए अप्लाई करने की डेट आगे बढ़ी, मई तक कर सकेंगे आवेदन

Smart News Team, Last updated: 21/04/2021 03:14 PM IST
  • सेलेक्शन बोर्ड ने 15 मार्च को प्राइवेट एडेड माध्यमिक कॉलेजों में TGT-PGT पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगा था. बताया जा रहा है कि दोनों के करीब 15 हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती होनी है.
TGT-PGT के लिए अप्लाई करने की डेट आगे बढ़ी, मई तक कर सकेंगे आवेदन

लखनऊ। पूरे देश में जहां सभी लोग कोरोना महामारी के भयानक दौर से गुजर रहे हैं , इस दौर में भी योगी सरकार अपनी पूरी कोशिश कर रही है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को रोजगार दिया जा सके. ऐसे में उत्तर प्रदेश के एडेड माध्यमिक कॉलेजों में प्रशिक्षित ग्रेजुएट टीचर्स की भर्ती के लिए एप्लीकेशन की डेट को बढ़ा दिया गया है. इस भर्ती के लिए आवेदन करने वाले कैंडिडेट्स 5 मई तक इस रिक्रूटमेंट के लिए अप्लाई कर सकते हैं.

बीते मंगलवार को UP Secondary Education Service Selection Board ने अप्लाई करने की लास्ट डेट बढ़ा दी है और इसकी वजह यह बताई गई है कि NIC के E-Portal पर कैंडिडेट्स अप्लाई नहीं कर पा रहे थे. बताया जा रहा है कि कई कोशिशों के बाद भी पोर्टल पर आवेदक अपनी डिटेल्स अपलोड नहीं कर पा रहे थे.

यूपी पुलिस SI, एएसआई लिपिक के बंपर पदों पर भर्ती, इस तारीख से आवेदन शुरू

बताते चलें कि सेलेक्शन बोर्ड द्वारा 15 मार्च को प्राइवेट एडेड माध्यमिक कॉलेजों में TGT-PGT पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगा गया था. दोनों के करीब 15 हजार से ज्यादा पदों पर भर्ती होनी है. इसके लिए बड़ी संख्या में कैंडिडेट्स अप्लाई भी कर रहे हैं. इसी बीच कई लोगों ने शिकायत कर ये जानकारी दी कि वेबसाइट सही से काम नहीं कर रही है. लोग एप्लीकेशन के लिए प्रक्रिया पूरी करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन डिटेल्स अपलोड नहीं हो रहीं. इसके साथ ही उम्मीदवारों ने सेलेक्शन बोर्ड से मांग की थी कि आवेदन की तारीख बढ़ाई जाए और वेबसाइट में आई खराबी को ठीक किया जाए.

यूपी सरकार विदेश में नौकरी करने की राह करेगी आसान, जानें कैसे

बोर्ड ने तुरंत मामले को संज्ञान में लेकर जांच की तो पाया कि पोर्टल वाकई में काम नहीं कर रहा है जिसकी वजह से कैंडिडेट्स को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. जिसके बाद एक्शन लेते हुए आवेदन की तारीख 5 मई तक बढ़ा दी गई है. इससे पहले 21 अप्रैल तक रजिस्ट्रेशन और एप्लीकेशन की आखिरी तारीख 25 अप्रैल तक थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें