40 साल बाद 56 साल के हत्या के आरोपी को हाईकोर्ट ने किशोर घोषित किया, हुई रिहाई

Naveen Kumar Mishra, Last updated: Fri, 26th Nov 2021, 9:50 AM IST
इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने 40 साल बाद एक अनोखा फैसला सुनाया है. हत्या के दोष सिद्ध आरोपी को घटना के समय किशोर घोषित किया है. कोर्ट ने पाया है कि अपील करने वाला तीन साल से ज्यादा समय जेल में काट चुका है, कोर्ट ने इन्हीं अवधि के कारावास की सजा सुनाते हुए तुरंत रिहा करने का आदेश दिया है. 40 साल पहले हत्या के आरोपी की उम्र अभी 56 साल है.
इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने 40 साल बाद एक अनोखा फैसला सुनाया है, प्रतीकात्मक

लखनऊ। इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच ने 40 साल बाद एक अनोखा फैसला सुनाया है. हत्या के दोष सिद्ध आरोपी को घटना के समय किशोर घोषित किया है. कोर्ट ने पाया है कि अपील करने वाला तीन साल से ज्यादा समय जेल में काट चुका है, कोर्ट ने इन्हीं अवधि के कारावास की सजा सुनाते हुए तुरंत रिहा करने का आदेश दिया है.

 

आरोपी अभी 56 साल का है

40 साल पहले हत्या का आरोपी की उम्र अभी 56 साल है. रिहा करने का फैसला न्यायमूर्ति रमेश सिन्हा और न्यायमूर्ति विवेक वर्मा की खंडपीठ ने संग्राम की ओर से दायर की गई अपील पर सुनाया है.

12 दिसंबर से चलेगी उत्तर भारत दर्शन यात्रा ट्रेन, आधी बुकिंग रांची वालों ने करवा ली

क्या है पूरा मामला?

अंबेडकर नगर के एक अपर सत्र अदालत ने 25 नवंबर 1981 को अभियुक्त राम कुमार और संग्राम को इब्राहिमपुर थाना क्षेत्र में पड़ने वाले एक मामले में उम्र कैद की सजा सुनाई थी. बता दे घटना 8 जनवरी 1981 की है. अपर सत्र न्यायालय के फैसले के खिलाफ दोनों पक्षकारों ने हाईकोर्ट में अपील की थी. अपील पर कोर्ट ने संग्राम को अंबेडकर नगर के एक जूविनाइल जस्टिस बोर्ड से उसके आयु निर्धारण करने को कहा था. 2017 में भेजी रिपोर्ट में बोर्ड ने यह माना कि घटना के समय आरोपी 15 साल का था. इस पर हाईकोर्ट ने दोस्त सिद्ध को बरकरार रखा. इस पर सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई. सुप्रीम कोर्ट ने माना कि हाई कोर्ट ने बिना सुनवाई किए अपील निरस्त कर दिया है. इस पर 27 अगस्त 2021 को सुप्रीम कोर्ट ने मामले की पुनर्विचार के लिए हाईकोर्ट को वापस भेज दिया था.

पेट्रोल डीजल 26 नवम्बर रेटः रांची, धनबाद, जमशेदपुर, बोकारो में नहीं बढ़े पेट्रोल और डीजल के रेट

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें