कोरोना का असर, उत्तर प्रदेश में स्पेशल अप्वाइंटमेंट से अब नहीं बनेंगे पासपोर्ट

ABHINAV AZAD, Last updated: Sun, 3rd Oct 2021, 12:14 PM IST
  • विदेश मंत्रालय ने कोरोना संक्रमण के कारण पासपोर्ट मेला के आयोजन पर रोक लगा दी है. यह मेला क्षेत्रीय पासपोर्ट विभाग स्पेशल अप्वाइंटमेंट के जरिए पासपोर्ट बनाने के लिए छह अक्तूबर को आयोजित होना था.
(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. कोरोना संक्रमण के चलते उत्तर प्रदेश में आवेदक अब स्पेशल अप्वाइंटमेंट से पासपोर्ट नहीं बना सकेंगे. दरअसल, विदेश मंत्रालय ने पासपोर्ट मेला के आयोजन पर रोक लगा दी है. गौरतलब है कि यह मेला क्षेत्रीय पासपोर्ट विभाग स्पेशल अप्वाइंटमेंट के जरिए पासपोर्ट बनाने के लिए छह अक्तूबर को आयोजित होना था. ऐसा माना जा रहा है कि कोरोना संक्रमण के कारण यह फैसला लिया गया है.

बता दें कि कोरोना काल में कुल क्षमता से महज 50 फीसदी पासपोर्ट ही बन पा रहे थे. फिलहाल लखनऊ पासपोर्ट सेवा केंद्र से बनवाने वाले आवेदकों को 15 दिन की वेटिंग का सामना करना पड़ रहा है. गोरखपुर में सबसे ज्यादा अप्वाइंटमेंट की वेटिंग है. गोरखपुर में 15 नवंबर तक की वेटिंग चल रही है.

लखनऊ में प्राइवेट बैंक में जॉब दिलवाने के नाम पर बेरोजगारों के साथ फ्रॉड, मामला दर्ज

मिली जानकारी के मुताबिक, वाराणसी में 22 अक्तूबर तक वेटिंग है. जबकि कानपुर पासपोर्ट सेवा केंद्र में 11 अक्तूबर की वेटिंग है. दरअसल, पासपोर्ट विभाग ने जरूरतमंद आवेदकों का पासपोर्ट बनाने के लिए नौ अक्तूबर को पासपोर्ट मेला आयोजित करने का प्रस्ताव तैयार किया था. लेकिन विदेश मंत्रालय ने कोरोना संक्रमण के चलते रोक लगा दी है. विदेश मंत्रालय ने कोरोना संक्रमण के कारण पासपोर्ट मेला के आयोजन पर रोक लगा दी है. गौरतलब है कि यह मेला क्षेत्रीय पासपोर्ट विभाग स्पेशल अप्वाइंटमेंट के जरिए पासपोर्ट बनाने के लिए छह अक्तूबर को आयोजित होना था. आंकड़ों के मुताबिक, लखनऊ पासपोर्ट सेवा केंद्र से बनवाने वाले आवेदकों को 15 दिन की वेटिंग का सामना करना पड़ रहा है. गोरखपुर में सबसे ज्यादा अप्वाइंटमेंट की वेटिंग है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें