पुलिस आकाशीय बिजली से मौत का कारण बताती रही, बुजुर्ग की हत्या गोली मारकर हुई

Smart News Team, Last updated: Wed, 25th Aug 2021, 2:24 PM IST
  • माल थाना क्षेत्र के अटारी गांव में 60 वर्षीय बुजुर्ग की मौत को पुलिस आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मौत का कारण बताती रही. जबकि बुजुर्ग की मौत एक हत्या थी. जानकारी के मुताबिक बुजुर्ग की गोली मारकर हत्या की गई.
पुलिस आकाशीय बिजली से मौत का कारण बताती रही, बुजुर्ग की हत्या गोली मारकर हुई (प्रतिकात्मिक फोटो)

लखनऊ: लखनऊ के माल थाना क्षेत्र के अटारी गांव में 60 वर्षीय बुजुर्ग की मौत को पुलिस आकाशीय बिजली की चपेट में आने से मौत का कारण बताती रही. जबकि बुजुर्ग की मौत एक हत्या थी. जानकारी के मुताबिक बुजुर्ग की गोली मारकर हत्या की गई. बुजुर्ग के सिर पर 2 गोलियां लगी थी जिससे उसकी मौत हो गयी थी. यहां तक की डॉक्टरों ने भी बुजुर्ग के मौत का कारण सिर में गोली लगना ही बताया है.

दरअसल, लखनऊ के माल थाना क्षेत्र के अटारी गांव निवासी विष्णु दत्त त्रिवेदी के बेटे तेज नारायण त्रिवेदी (60) बीती रात घर के बाहर बरामदे में लेटे हुए थे. बरामदा तीन ओर से खुला था. घर के अंदर तेज नारायण त्रिवेदी की पत्नी तारावती त्रिवेदी सो रही थी. गोलियों की आवाज़ से तारावती त्रिवेदी की नींद खुली. जब वो घर से बाहर निकली तो देखी कि उनके पति तेज नारायण त्रिवेदी को गोली लगी है. वे खून से लथपथ हैं. परिवारजनों ने मिलकर आनन फानन में तेज नारायण त्रिवेदी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे. जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. डॉक्टरों ने भी रिपोर्ट में गोली लगने की बात कबूली.

लखनऊ में लगातार जारी प्रशासन फेरबदल, 11 IPS के बाद अब इन अधिकारियों का तबादला

वहीं इधर माल थाना क्षेत्र के अध्यक्ष राम सिंह ने बुजुर्ग के मौत का कारण आकाशीय बिजली बताया. उन्होंने गोली लगने की बात को सिरे से नकार दिया. डॉक्टर की ओर से रिपोर्ट आने के बाद से पुलिस की ओर से कोई सफाई नहीं दी गयी है. फिलहाल परिवारवालों का रो रो का बुरा हाल है. जानकारी के मुताबिक तेज नारायण त्रिवेदी का बड़ा बेटा दीरवेश अयोध्या स्थित चौकी पर इंचार्ज हैं. वहीं बेटी निधि त्रिवेदी दिल्ली में सिविल परीक्षा की तैयारी कर रही है. अपनी पिता की मौत की खबर सुनकर दोनों का ही रो रो का बुरा हाल है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें