लखनऊ से चलने वाली ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट, यात्री परेशान

ABHINAV AZAD, Last updated: Tue, 23rd Nov 2021, 7:52 AM IST
  • लखनऊ से मुंबई और दिल्ली की ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट चल रही है. इस वजह से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. आलम यह है कि मुंबई की ट्रेनों में नो रूम की स्थिति बन गई है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. त्यौहारों के दौरान अपने घर आए लोगों को वापस जाने में पसीने छूट रहे हैं. दरअसल, लोगों को ट्रेनों में खाली टिकट नहीं मिल पा रही हैं. आलम यह है कि लखनऊ से मुंबई और दिल्ली की ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट चल रही है. साथ ही वेटिंग लिस्ट की यह फेहरिस्त लंबी होती जा रही है. सोमवार को स्थिति यह हो गई कि मुंबई की ट्रेनों में नो रूम की स्थिति बन गई है.

आलम यह है कि अब यात्रियों को आरक्षण काउंटर पर वेटिंग टिकट भी नहीं मिल रहा है. मिली जानकारी के मुताबिक, पुष्पक, गोरखधाम व अवध एक्सप्रेस के स्लीपर क्लास में वेटिंग लिस्ट की 280 पार कर गई है. वहीं लखनऊ से मुंबई, दिल्ली, पटना, पुणे, सिकंदराबाद और कोचीन जाने वाली ट्रेनों का कंफर्म टिकट नहीं मिल रहा है. बताया जा रहा है कि बाकि ट्रेनों के हालात भी ऐसे ही हैं. जहां यात्रियों को वेटिंग टिकट तक नहीं मिल पा रहा है.

संयुक्त किसान मोर्चा ने PM मोदी को लिखा खुला पत्र, MSP सहित इन छह मांगों पर हो चर्चा, जानिए

बताया जा रहा है कि तेजस, शताब्दी और हमसफर जैसी ट्रेनों में भी वेटिंग चल रही है. जबिक अमूमन इन ट्रेनों में सीट खाली रहती है. लेकिन मौजूदा वक्त में सीट फुल है और वेटिंग की स्थिति है. आलम यह है कि 27 नवंबर तक वेटिंग होने से यात्रियों के सामने तत्काल कोटे से कंफर्म सीट मिलने की उम्मीद लगाए बैठे हैं. बताते चलें कि त्यौहारों के दौरान अपने घर आए लोगों को वापस जाने में पसीने छूट रहे हैं. दरअसल, लोगों को ट्रेनों में खाली टिकट नहीं मिल पा रही हैं. आलम यह है कि लखनऊ से मुंबई और दिल्ली की ट्रेनों में लंबी वेटिंग लिस्ट चल रही है. साथ ही वेटिंग लिस्ट की यह फेहरिस्त लंबी होती जा रही है. पुष्पक, गोरखधाम व अवध एक्सप्रेस के स्लीपर क्लास में वेटिंग लिस्ट की 280 पार कर गई है. वहीं लखनऊ से मुंबई, दिल्ली, पटना, पुणे, सिकंदराबाद और कोचीन जाने वाली ट्रेनों का कंफर्म टिकट नहीं मिल रहा है. बताया जा रहा है कि बाकि ट्रेनों के हालात भी ऐसे ही हैं. जहां यात्रियों को वेटिंग टिकट तक नहीं मिल पा रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें