यूपी से मुंबई को अब सप्ताह में दो दिन चलेंगी ट्रेनें, ये हैं स्टेशन, फुल डिटेल्स

Smart News Team, Last updated: Wed, 2nd Jun 2021, 10:09 PM IST
  • रेलवे मुंबई के लिए द्विसाप्ताहिक ट्रेन चलाने जा रहा है. रेलवे ने यह फैसला ट्रेनों में वेटिंग टिकट को देखते हुए लिया है. ट्रेन 6 जून से शुरू होकर परिचालन 28 जून तक गोरखपुर से पनवेल वाया लखनऊ के बीच आवागमन करेगी. इस ट्रेन में सभी कोच रिजर्व कैटेगरी के होंगे. इसके अलावा इस ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों को कोरोना गाइडलाइन के मानकों का पालन करना होगा.
रेलवे ने यह फैसला ट्रेनों में वेटिंग टिकट को देखते हुए लिया है. (प्रतिकात्मक फोटो)

लखनऊ- कोरोना काल में ट्रेनों के परिचालन पर बुरा असर पड़ा. इस दौरान कई ट्रेनों के परिचालन को बंद कर दिया गया. इस बीच मुंबई से लखनऊ आने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है. दरअसल, रेलवे मुंबई के लिए द्विसाप्ताहिक ट्रेन चलाने जा रहा है. रेलवे ने यह फैसला ट्रेनों में वेटिंग टिकट को देखते हुए लिया है.

यह ट्रेन 6 जून से शुरू होकर परिचालन 28 जून तक गोरखपुर से पनवेल वाया लखनऊ के बीच आवागमन करेगी. मिली जानकारी के मुताबिक, इस ट्रेन में सभी कोच रिजर्व कैटेगरी के होंगे. इसके अलावा इस ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों को कोरोना गाइडलाइन के मानकों का पालन करना होगा.

राहत: कोरोना से रद्द UP-बिहार की 24 पैसेंजर स्पेशल ट्रेनें 5 जून से चलेंगी, लिस्ट

बताते चलें कि ट्रेन नंबर 05063 गोरखपुर से पनवेल वाया लखनऊ सप्ताह में दो दिन हर रविवार और गुरुवार को गोरखपर से 06, 10, 13, 17, 20, 24 एवं 27 जून को सुबह 08:00 बजे चलकर दोपहर लखनऊ जंक्शन 01:10 बजे पहुंचकर अगले दिन दोपहर 12:40 बजे पनवेल मुंबई पहुंचेगी. जबकि वापसी में ट्रेन नंबर 05064 पनवेल से 07, 11, 14, 18, 21, 25 एवं 28 जून को हर सोमवार एवं शुक्रवार को दोपहर 02.20 बजे चलकर दूसरे दिन लखनऊ दोपहर 02.00 बजे छूटकर गोरखपुर शाम 07.20 बजे पहुंचेगी. इस स्पेशल ट्रेन में कुल 22 कोच लगाये जायेंगे.

यूपी बोर्ड 10वीं-12वीं परीक्षाएं तो कैंसिल, अब क्या होगी एग्जाम फीस वापस ?

UP में मुसलमान कांग्रेस के साथ आ जाएं तो दो सीट जीतेगी BJP: नसीमुद्दीन सिद्दीकी

मायावती ने सरकारों और पार्टियों पर साधा निशाना, कहा- अपने स्वार्थ त्यागने को तैयार नहीं

यूपी में हाउस टैक्स देने वालों को मिली राहत, न मिलेगा नोटिस, न सीज होंगे खाते

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें