लखनऊ में जमकर उड़ाया जा रहा था धुआं, हुक्काबार सील, 14 गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 04/10/2020 09:37 AM IST
लखनऊ के गोमतीनगर पुलिस ने शनिवार रात को कोरोनाकाल में खुले दो हुक्का बारों पर छापेमारी की. यह इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश को नहीं मान रहे थे. छापेमारी के दौरान दोनों हुक्कों बारों को सील कर दिया गया है. मैनेजर सहित 14 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.
लखनऊ में दो हुक्काबार सील, मालिक समेत 14 लोग गिरफ्तार, 2 दिन पहले हुई थी कार्यवाही

लखनऊ. लखनऊ के गोमतीनगर पुलिस ने शनिवार रात को कोरोनाकाल में खुले दो हुक्का बारों पर छापेमारी की. यह हुक्का बार इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश को नहीं मान रहे थे. इस दौरान दोनों हुक्कों बारों को सील कर दिया और मैनेजर सहित 14 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

एसीपी गोमतीनगर श्वेता श्रीवास्तव ने कहा कि कोरोना संक्रमण को मद्देनजर रखते हुए हुक्का बार खोलने कर रोक है. इनके मालिक फिर भी नहीं मान रहे. उन्होंने कहा कि शनिवार को ग्वारी चोराहा के कैमेस्ट्री कैफे पर छापा मारा गया था. यह हुक्का बार अमीनाबाद का रहने वाला नदीम अहमद चला रहा था. उसे पता था क्योंकि हम उसे पहले भी चेतावनी दे चुके हैं लेकिन नदीम इसके बाद भी नहीं माना. शनिवार को उसने बार में ग्राहकों को बुलाया.

लखनऊ: दलालों संग मिलकर डॉक्टर कर रहे मरीजों को गुमराह, अफसर बैठे चुप

एसीपी श्वेता के मुताबिक कैमिस्ट्री कैफे से जिन लोगों को पकड़ है. उनके नाम है सलीम, जकरीया, अरहान,जाकर, वीर प्रताप सिंह, अफसार अहमद, शारु प्रिय सिंह, प्रणब सिंह और फराज अहमद है. इन सभी को गिरफ्तार करते समय 12 हुक्के बरामद किए गए हैं. इंस्पेक्टर गोमतीनगर धीरज सिंह ने कहा कि हागवर्ड कैफे से शौर्य प्रताप सिंह,संदीप गौरव दीक्षित और रवी वर्मा को गिरफ्तार किया है. यहां से तीन हुक्के बरामद किए गए है.

लखनऊ: SBI कर्मी बन महिला ने दरोगा से की धोखाधड़ी, ऐसे ठगे एक लाख रुपये

जानकारी के लिए बता दें कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए करीब एक महीने पहले हुक्का बार खोलने पर रोक लगा दी थी. कोर्ट ने आदेश देते हुए यूपी के चीफ सेक्रेट्री को कहा था कि वह किसी भी रेस्टोरेंट और कैफे में हुक्का बार चलाने की अनुमति न दें.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें