लखनऊ में बनेंगे दो नए बिजली उपकेंद्र, बिजली व्यवस्था सुधारने पर जोर

Smart News Team, Last updated: Thu, 8th Jul 2021, 5:49 PM IST
  • बिजली व्यवस्था को दुरुस्त करने का काम जोरों पर है. उतरेटिया, तेलीबाग, पिपरौली, बिजनौरी और पीजीआई इलाके में करीब दो लाख आबादी के लिए दो नए बिजली उपकेंद्र लगाए जा रहे हैं.
दो नए बिजली उपकेंद्र बनेंगे

लखनऊ: राजधानी में इन दिनों बिजली व्यवस्था को दुरुस्त करने का काम जोरों पर है. उतरेटिया, तेलीबाग, पिपरौली, बिजनौरी और पीजीआई इलाके में करीब दो लाख आबादी के लिए दो नए बिजली उपकेंद्र लगाए जा रहे हैं. इसके लिए जिला प्रशासन की तरफ से 40 हजार वर्ग फीट जमीन बिजनौर के जैतीखेड़ा में दी गई है, और शारदा नगर में जमीन एलडीए ने दी है.

पूरे इलाके में बिजली व्यवस्था सुधारने के मकसद से ये दोनों ही उपकेंद्र लगाए जा रहे हैं. दोनों बिजली उपकेंद्र 20 एमवीए के होंगे. इसके अलावा अंबेडकरनगर उपकेंद्र की क्षमता को बढ़ाने की कोशिश हो रही है. यहां उपभोक्ताओं की संख्या बढ़ने की वजह से बिजली उपकेंद्र की क्षमता को5 एमवीए बढ़ाने पर विचार हो रहा है.

UP में बिना कारण बिजली कटौती हुई तो अफसरों पर होगी कार्रवाई, योगी सरकार ने दिए सख्त निर्देश

अंबेडकरनगर में एक पावर ट्रांसफॉर्मर लगाकर बिजली की आपूर्ति करने की योजना है. बिजली के इन सभी प्रस्तावों को विभाग के अफसरों को भेजा गया है. उम्मीद की जा रही है कि साल 2022 तक एक उपकेंद्र जैतीखेड़ा में बनकर तैयार हो जाएगा.

LU में एमफार्मा कोर्स चलाने की तैयारी, विद्या परिषद की बैठक में होगा फैसला

वहीं शारदानगर में बनने वाला उपकेंद्र भी कुछ ही महीनों में तैयार हो जाएगा. आपको बता दें कि लखनऊ विकास प्राधिकरण ने शारदा नगर योजना में प्रधानमंत्री आवास बनाए हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें