फ्री LPG कनेक्शन पर मिलने वाली सब्सिडी का बदल सकता है स्ट्रक्चर, बनेंगे नए रूल

Swati Gautam, Last updated: Sun, 21st Nov 2021, 11:14 AM IST
  • उज्ज्वला स्कीम के जरिए एलपीजी गैस कनेक्शन पर मिलने वाली सब्सिडी के मौजूदा स्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव हो सकता है. पेट्रोलियम मंत्रालय ने दो नए स्ट्रक्चर पर काम शुरू भी कर दिया है और इसे जल्द जारी भी कर दिया जाएगा.
फ्री LPG कनेक्शन पर मिलने वाली सब्सिडी का बदल सकता है स्ट्रक्चर, बनेंगे नए रूल. file photo

लखनऊ. अगर आप भी उज्जवला योजना के तहत फ्री एलपीजी गैस कनेक्शन लेते हैं और उस पर सब्सिडी पाते हैं तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है. खबरों के अनुसार यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि उज्ज्वला स्कीम के जरिए एलपीजी गैस कनेक्शन पर मिलने वाली सब्सिडी के मौजूदा स्ट्रक्चर में बड़ा बदलाव हो सकता है. इतना ही नहीं, पेट्रोलियम मंत्रालय ने दो नए स्ट्रक्चर पर काम शुरू भी कर दिया है और इसे जल्द जारी भी कर दिया जाएगा. यह स्ट्रक्चर कैसे होंगे इसकी कोई आधिकारिक जानकारी अभी तक नहीं मिल पाई है.

मालूम हो कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में एक करोड़ नए कनेक्शन देने का ऐलान किया था, लेकिन अब सरकार OMCs की ओर से एडवांस पेमेंट मॉडल में बदलाव कर सकती है. सूचना अनुसार 1600 रुपये का एडवांस पेमेंट कंपनी एकमुश्त वसूलेगी. अभी OMCs एडवांस रकम EMI के रूप में वसूलती हैं जबकि इस मामले की जानकारी रखने वाले सूत्र के मुताबिक योजना में बाकी 1600 की सब्सिडी सरकार देती रहेगी.

वित्तीय धोखाधड़ी मामलों में जल्द मिलेगा इंसाफ, यूपी के इन तीन जिलों में बनेंगी विशेष अदालतें

ऐसे करें उज्ज्वला योजना में रजिस्ट्रेशन

उज्ज्वला योजना की पूरी जानकारी आधिकारिक वेबसाइट pmujjwalayojana.com पर जाकर आसानी से मिल जाएगी. बता दें कि उज्ज्वला योजना के तहत, गैस कनेक्शन लेने के लिए BPL परिवार में महिला का होना जरूरी होता है, महिला ही इसके लिए अप्लाई कर सकती हैं. महिला को एक फॉर्म भरकर नजदीकी LPG डिस्ट्रीब्यूटर को देना होगा. जिसमें उसका अपना पूरा पता, जनधन बैंक अकाउंट और परिवार के सभी सदस्यों का आधार नंबर भी देना होगा. इसके बाद में इसे प्रॉसेस करने के बाद देश की ऑयल मार्केटिंग कंपनियां योग्य लाभार्थी को LPG कनेक्शन जारी करती हैं. अगर कोई उपभोक्ता EMI का विकल्प चुनता है तो EMI की राशि सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी में एडजस्ट की जाती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें