यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस की नई रणनीति, प्रियंका गांधी 4 वर्किंग प्रेसीडेंट मिशन 2022 के लिए करेंगी तैयार

Ankul Kaushik, Last updated: Sun, 12th Sep 2021, 1:35 PM IST
  • उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के लिए कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी जमीनी स्तर पर तैयारी कर रही हैं. इस चुनाव के लिए प्रियंका गांधी ने एक नई रणनीति और तैयार कर ली है. यूपी चुनाव के लिए कांग्रेस में चार वर्किंग प्रेसीडेंट बनाए जाएंगे.
प्रियंका गांधी ने यूपी चुनाव 2022 के लिए बनाई नई रणनीति (प्रियंका गांधी ट्विटर)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस यूपी की राजनीति में वापस लौटने के लिए पूरी तैयारी कर रही है. इस चुनाव के लिए कांग्रेस महासचिव और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी जमीनी स्तर पर काफी मेहनत करती नजर आ रही हैं. इस चुनाव के लिए प्रियंका गांधी ने लखनऊ में उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक की. इसके साथ ही प्रियंका ने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर चुनाव की तैयारियों को लेकर चर्चा की. वहीं प्रियंका ने जाति समीकरण साधने के लिए एक नई तैयारी की है. इस तैयारी को लेकर प्रियंका ने कहा कि हम प्रदेश में अपने संगठन को मजबूत करने के लिए चार वर्किंग प्रेसीडेंट की नियुक्ति करेंगे जो चार अलग-अलग जातियों से बनाए जाएंगे. कांग्रेस के लिए विधानसभा चुनाव 2022 काफी अहम है इसलिए पार्टी के इन चार वर्किंग प्रेसीडेंट का कद अध्यक्ष के बराबर का होगा.

कांग्रेस पार्टी द्वारा नियुक्त होने वाले चार वर्किंग प्रेसीडेंट कांंग्रेस पार्टी के लिए जाति समीकरण को भी साधेंगे. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी यूपी में कांग्रेस को फिर से मुख्यधारा में लाने के प्रयास में लगी हुई हैं. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के लिए प्रियंका ने कार्यकर्ताओं से साफ कह दिया है कि मजबूत संगठन पार्टी के लिए ही नहीं देश निर्माण के लिए भी कांग्रेस कार्यकर्ता 24 घंटे काम करें. 

रविवार को यूपी में कांग्रेस के गढ़ रायबरेली पहुंचेंगी प्रियंका गांधी, ये है पूरा कार्यक्रम शेड्यूल

लखनऊ दौरे पर आईं प्रियंका गांधी ने पार्टी नेताओं के साथ पश्चिमी उत्तर प्रदेश की चुनावी रणनीति पर मंथन किया और प्रदेश के संगठन के कार्यों की समीक्षा भी की. इसके साथ ही कांग्रेस कार्यालय पर प्रदेश संगठन की बैठकों में पदाधिकारियों एवं जिले के नेताओं से रिपोर्ट व फीडबैक लिया. इस बैठक को लेकर प्रियंका ने कहा कि चुनाव समिति में वरिष्ठ सदस्यों, युवाओं, महिलाओं एवं संगठन के पदाधिकारियों की भागीदारी के चलते बहुत सार्थक चर्चा हुई. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें