कांग्रेस के सीट बंटवारे पर उठने लगे सवाल, टिकट कटने के बाद धरने बैठी महिला नेता शीला मिश्रा

Haimendra Singh, Last updated: Fri, 14th Jan 2022, 1:53 PM IST
  • कांग्रेस के द्वारा गुरुवार को 125 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट के बाद पार्टी महिला नेता शीला मिश्रा धरने पर बैठ गई है. महिला नेता ने आरोप लगाया है कि बीकेटी विधानसभा से उनकी टिकट को काटकर ललन कुमार को दिया गया है.
टिकट कटने के बाद धरने पर बैठी कांग्रेस नेता शीला मिश्रा.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के लिए कांग्रेस गुरुवार को 125 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है. जिसमें 50 टिकट महिलाओं कैडिकेड का दिया गया है, लेकिन महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के उम्मीदवार की सूची की घोषणा के बाद कांग्रेस में ही टिकट बटबारे को लेकर सवाल खड़ा हो गया है. प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य शीला मिश्रा ने आरोप लगाया है कि पार्टी ने बीकेटी विधानसभा सीट से टिकट देने का वादा किया गया था, लेकिन वहां से ललन कुमार को टिकट दे दिया गया है. इसको लेकर कांग्रेस नेता शीला मिश्रा लखनऊ एवेन्यू स्थित मुख्यालय पर धरना दे रही हैं.

धरने पर बैठी महिला नेता शीला मिश्रा ने कहा, कि वह तीन दशकों से पार्टी की सेवा कर रही है. पार्टी ने भी उन्हें बीकेटी विधानसभा सीट से टिकट देने का वादा किया था. महिला होने के नाते उनको बहुत उम्मीद थी, लेकिन अब इस सीट पर ललन कुमार को टिकट दिया गया है. 

लड़की हूं लड़ सकती हूं: उन्नाव रेप पीड़िता की मां समेत इन महिलाओं को प्रियंका ने बनाया कांग्रेस उम्मीदवार

कांग्रेस उम्मीदवारों की सूची में कुछ चौंकाने वाले नाम

125 उम्मीदवार की सूची में उन्नाव की रेप पीड़िता की मां आशा सिंह को उन्नाव सदर से टिकट दिया गया है. इसके अलावा सोनभद्र में आदिवासियों की आवाज उठाने वाले रामराज कोल को टिकट मिला है. शाहजहांपुर से आशा की बहन पूनम पांडेय को टिकट मिला है. आशा को योगी से मिलने पर पीटा गया था. वहीं लखनऊ से सदफ जफर को टिकट दिया है. जिन्होंने एनआरसी की लड़ाई की थी. वहीं 40 प्रतिशत युवाओं को भी कांग्रेस पार्टी ने टिकट दिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें