UP चुनाव से पहले SP सरंक्षक मुलायम सिंह से मिले राजा भैया, कहा- राजनीतिक मुलाकात नहीं

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 25th Nov 2021, 1:53 PM IST
  • जनसत्ता दल लोकतांत्रिक पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने गुरुवार को सपा सरंक्षक मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की. इस मुलाकात को लेकर यूपी की राजनीति में कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं. हालांकि राजा भैया ने कहा कि ये कोई राजनीतिक मुलाकात नहीं है.
UP चुनाव से पहले सपा सरंक्षक मुलायम सिंह से मिले राजा भैया, राजनीतिक सरगर्मी तेज

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले जनसत्ता दल लोकतांत्रिक पार्टी के प्रमुख व पूर्व कैबिनेट मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने समाजवादी पार्टी के पूर्व अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की. राजा भैया ने इस मुलाकात को लेकर कहा कि वह सिर्फ जन्मदिन की बधाई देने आए थे. नेताजी हमारे पूज्य हैं.

भाजपा को रोकने के लिए कुछ भी करेंगे

सपा से गठबंधन को लेकर राजा भैया ने कहा कि भाजपा को रोकने के लिए कुछ भी करेंगे लेकिन अभी सपा से गठंधन पर बात नहीं हुई है. जब समय आएगा तब गठबंधन पर भी बात होगी लेकिन अभी इस मुलाकात का कोई राजनीतिक निहितार्थ नहीं है.

UP से देश-विदेश के लिए आसान हुआ हवाई सफर, फैल रहा है नेशनल व इंटरनेशनल एयरपोर्ट का जाल

15 मिनट की हुई मुलाकात

राजा भैया करीब 15 मिनट मुलायम सिंह यादव के साथ बैठे और इस दौरान दोनों की बातचीत को लेकर राजनीतिक मयाने निकाले जा रहे हैं. वहीं, राजा भैया ने कहा कि मैं 22 नवंबर को लखनऊ से बाहर था इसलिए तब मुलाकात नहीं हो सकी थी.

1993 से लगातार चुने जा रहे थे विधायक

दंबग छवि वाले विधायक राजा भैया कुंडा से लगातार 1993 से विधायक चुने जा रहे हैं. राजा भैया के खिलाफ प्रतापगढ़ के कुंडा और महेशगंज पुलिस थाने के साथ प्रयागराज, रायबरेली और राजधानी लखनऊ में हत्या, हत्या का प्रयास, लूट, अपहरण समेत अन्य कई धाराओं के तहत 47 मामले दर्ज किए हैं.

UP में दिल के मरीजों पर संकट, अस्पतालों में दो साल बाद मिल रही बाईपास सर्जरी की डेट

बता दें कि राजा भैया विधानसभा चुनाव को लेकर ऐलान किया है कि वो 100 सीटों पर अपनी पार्टी से प्रत्याशी उतारने की तैयारी कर रहे हैं. वो पूर्वांचल, पश्चिम व बुंदेलखंड इलाकों में पार्टी को मजबूत करने के साथ चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें