UP चुनाव से पहले SP को बड़ा झटका, मुलायम सिंह के करीबी शतरुद्र प्रकाश BJP में शामिल

Shubham Bajpai, Last updated: Fri, 31st Dec 2021, 11:31 AM IST
  • समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व एमएलसी शतरुद्र प्रकाश ने लखनऊ में भाजपा की सदस्यता ले ली. शतरुद्र पूर्वांचल में समाजवादी पार्टी का बड़ा चेहरे थे और पार्टी के सरंक्षक मुलायम सिंह यादव के बेहद करीबी रहे हैं. इस मौके पर ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी समेत कई नेता मौजूद रहे.
UP चुनाव से पहले SP को बड़ा झटका, मुलायम सिंह के करीबी शतरुद्र प्रकाश BJP में शामिल

लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले नेताओं का दल बदल जारी है. शुक्रवार का दिन समाजवादी पार्टी के लिए खराब रहा है. जहां कानपुर में एमएलसी पुष्पराज जैन के यहां आईटी ने छापा मारा. वहीं, लखनऊ स्थिति भाजपा मुख्यालय में सपा के एमएलसी और समाजवादी पार्टी के सरंक्षक रहे मुलायम सिंह यादव के करीबी माने जाने वाले शतरुद्र प्रकाश ने भाजपा का दामन थाम लिया. 

ये पार्टी के लिए बड़ा झटका है. जब पार्टी पूर्वांचल में मजबूती बनाने का काम कर रही है, ऐसे वक्त में पार्टी के पूर्वांचल में बड़ा नाम रहे शतरुद्र ने पार्टी का साथ छोड़ दिया.

UP Election 2022: EC ने दी दिव्यांग-बुजुर्गों को बड़ी राहत, घर बैठे करें वोटिंग

मुलायम सरकार में रह चुके हैं परिवहन मंत्री

शतरुद्र प्रकाश समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रहने के साथ मुलायम सिंह यादव की सरकार में परिवहन मंत्री भी रह चुके हैं. हालांकि 2012 में अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही शतरुद्र पार्टी में अलग-थलग पड़ गए. इस दौरान भी वो पार्टी के लिए काम करते रहे और पूर्वांचल में मजबूती के साथ पार्टी का पक्ष रखते रहे.

आंदोलन राह से भटक गया समाजवादी

शतरुद्र प्रकाश के भाजपा में शामिल होने के मौके पर ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेयी मौजूद रहे. इस दौरान बाजपेयी ने कहा कि समाजवादी आंदोलन से भटक गया है. वहीं, पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि शतरुद्र प्रकाश के आने से पार्टी मजबूत होगी.

अमित शाह का अयोध्या दौरा आज, हनुमानगढ़ी व रामलला के दर्शन कर जनसभा को करेंगे संबोधित

पहले माफिया से होती थी पूर्वांचल के जिलों की पहचान

भाजपा में शामिल होने के बाद शतरुद्र ने जमकर योगी सरकार की तारीफ की. शतरुद्र ने कहा कि पहले पूर्वांचल के जिलों की पहचान माफिया से होती थी लेकिन आज ऐसा नहीं है. काशीविश्वनाथ कॉरिडोर का काम अद्भूत है और कई शताब्दी की पीढ़ियां इसको स्मरण करेगी. मैं गैर कांग्रेस वाद की राजनीति की और आज राजनारायण की पुण्यतिथि में भाजपा में शामिल हुआ.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें