संबित पात्रा का अखिलेश पर हमला, बोले- जिन्ना से जो करे प्यार, वो पाकिस्तान से कैसे करे इंकार

Shubham Bajpai, Last updated: Mon, 24th Jan 2022, 2:24 PM IST
  • भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव के जिन्ना वाले बयान को लेकर जमकर हमला बोला. संबित पात्रा ने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानते और आरोप लगाते हैं कि भाजपा वोट की राजनीति के लिए पाकिस्तान को दुश्मन बताती है.
भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा (फाइल फोटो) 

लखनऊ (वार्ता). यूपी चुनाव 2022 में राजनीतिक दलों के नेता एक-दूसरे पर जमकर हमला बोल रहे हैं. इस बीच भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोला. संबित पात्रा ने अखिलेश यादव पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह पाकिस्तान को भारत का असली दुश्मन नहीं मानते, उन्होंने कहा भाजपा वोट की राजनीति के लिए पाकिस्तान को हमारा दुश्मन बताते हैं.

पार्टी के प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में पात्रा ने कहा कि आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी उत्तर प्रदेश के 73वें स्थापना दिवस की बधाई दे रहे हैं वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और सपा नेता अखिलेश यादव ने एक अखबार में साक्षात्कार में कहा कि भारत का असली दुश्मन नहीं मानते और आरोप लगाते हैं कि भाजपा वोट की राजनीति के लिए पाकिस्तान को दुश्मन बताती है.

BJP सरकार में अपराधियों करने लगे पलायन, माफियाओं के घरों पर चला बुलडोजर: CM योगी

उन्होने कहा कि मैं अखिलेश जी से पूछना चाहता हूं कि क्या जो कश्मीर के भाई बहन पाकिस्तान द्वारा भेजे गए आतंकियों से मारे जाते हैं, क्या वो भारतीय नहीं हैं. जिन्ना से जो करे प्यार, वो पाकिस्तान से कैसे करे इनकार जिन्ना का नाम लेकर उतरे थे और वो आज पाकिस्तान पर पहुंच गए. आज स्थापना दिवस पर योगी जी ने विकास का संदेश दिया वहीं अखिलेश जी ने पाकिस्तान को दुश्मन नहीं बताया, अब आप बताएं पाकिस्तान और जिन्ना को लेकर कौन आया.

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पार्टी उम्मीदवारों का नाम इसलिए नहीं घोषित कर रहे हैं क्योंकि वो नाहिद हसन जैसे लोगों को टिकट दे रहे हैं, अगर याकूब मेमन को फांसी नहीं हुई होती तो अखिलेश याकूब को भी उम्मीदवार बना देते और कसाब को स्टार प्रचार के रूप में उतार देते. इन्होंने आतंकवादियों को छुड़वाने के लिए पूरी प्रक्रिया की थी.

उन्होने कहा कि सपा चाहती है कि मीडिया वाले ओपिनियन पोल ना दिखाएं. अब यही लोग 10 मार्च को ईवीएम पर भी बरसेंगे कि ईवीएम खराब था इसलिए हार गए. यह चुनाव भाजपा और सपा के एक्सप्रेसवे के बीच में है. भाजपा के एक्सप्रेसवे हैं गंगा एक्सप्रेसवे, पूर्वाचल एक्सप्रेसवे, बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे जबकि सपा के हैं गुंडई एक्सप्रेसवे, रंगदारी एक्सप्रेसवे और माफिया एक्सप्रेसवे. प्रदेश की जनता को इनमें से एक को चुनना है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें