मेरे बेटे को लखनऊ से टिकट मिलता है तो सांसद पद से इस्तीफा दे दूंगी: BJP नेता रीता बहुगुणा जोशी

Swati Gautam, Last updated: Tue, 18th Jan 2022, 7:34 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव को लेकर प्रयागराज से सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने कहा है कि अगर मेरे बेटे को लखनऊ कैंट से टिकट मिलता है, तो मैं सांसद पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हूं. न ही मैं 2024 में लोकसभा चुनाव लडूंगी.
BJP नेता रीता बहुगुणा जोशी (file photo)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव को लेकर बीजेपी में टिकट बंटवारा आसान नहीं लग रहा है. प्रयागराज से सांसद रीता बहुगुणा जोशी लखनऊ कैंट सीट से अपने बेटे मयंक जोशी को चुनाव लड़ाना चाहती हैं. जिसके लिए रीता बहुगुणा जोशी ने कहा है कि अगर मेरे बेटे को लखनऊ कैंट से टिकट मिलता है, तो मैं सांसद पद से इस्तीफा देने के लिए तैयार हूं. न ही मैं 2024 में लोकसभा चुनाव लडूंगी. बता दें कि भाजपा ने सांसदों को टिकट देने से इनकार किया है. पार्टी ने एक परिवार एक टिकट का ऐलान किया है. जिसके बाद रीता बहुगुणा ने कहा है कि अगर मौजूदा सांसद के बेटे को टिकट देने में दिक्कत है तो वो अपने पद से इस्तीफा दे सकती हैं. इस सम्बंध में रीता ने केंद्रीय नेतृत्व को पत्र लिखकर अपनी बात कही है.

रीता बहुगुणा जोशी ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मेरा बेटा 12 साल से बीजेपी में काम कर रहा है. ऐसे में उसने टिकट मांगा है. यह उस यह उसका अधिकार भी है. रीता जोशी ने आगे कहा कि मैंने पहले ही 2024 का चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा कर रखी है. अब मैं सासंदी छोड़कर पार्टी का काम करना चाहती हूं. रीता बहुगुणा का कहना है कि अगर मौजूदा सांसद के बेटे को टिकट देने में दिक्कत है तो वो सांसदी छोड़ने को तैयार हैं. बता दें कि रीता जोशी जिस सीट लखनऊ कैंट से टिकट मांग रही हैं, उस पर बीजेपी में कई दावेदार हो गए हैं जिसके बाद पार्टी के सामने मुश्किलें खड़ी हो गई हैं.

अखिलेश की सपा का UP में 300 यूनिट मुफ्त पाएं नाम लिखाएं अभियान 19 जनवरी से शुरू

बता दें कि रीता के अलावा बीजेपी में अपने बेटों के लिए टिकट मांगने की लिस्ट में बीजेपी सांसद जगदम्बिका पाल, केन्द्रीय मंत्री कौशल किशोर और डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का भी नाम शामिल है. इन सभी ने विधानसभा चुनाव के लिए अपने बेटों कि लिए टिकट की मांग की है. बता दें कि रीता बहुगुणा जोशी बीजेपी की सांसद हैं। उन्होंने कांग्रेस पार्टी को छोड़कर बीजेपी को ज्वाइन किया था. रीता का कहना है कि उनका बेटा पिछले काफी समय से राजनीति में एक्टिव है और लोगों के लिए काम कर रहा है. ऐसे में उनके बेटे मंयक जोशी को टिकट मिलना चाहिए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें