यूपी चुनाव: मां को मनाने को अनुप्रिया पटेल ने दिया मंत्री का ऑफर, कृष्णा बोलीं- ना बेटी

Nawab Ali, Last updated: Fri, 10th Sep 2021, 6:45 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में विधानसभा में उतरने से पहले अपना दल की अनुप्रिया पटेल ने मां कृष्णा पटेल को साथ लाने की कोशिशें तेज कर दी है. अनुप्रिया पटेल ने मां कृष्णा पटेल को यूपी सरकार में अपनी पार्टी कोटे से मंत्री पद का ऑफर भी दिया है. साथ ही अपना दल के अध्यक्ष पद या संरक्षण पद का विकल्प दिया है. लेकिन मां कृष्णा पटेल ने ऑफर ठुकरा दिया है.
केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल मां कृष्णा पटेल को साथ लाने की कोशिशों में जुटी. (फाइल फोटो)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए सभी राजनीतिक पार्टियां जोड़-तोड़ में जुट गई है. चुनावों में बहतरीन प्रदर्शन के लिए समीकरणों को बैठाना काफी जरुरी माना जाता है. अपना दल से सांसद और केंद्र सरकार में राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को देखते हुए अपनी मां कृष्णा पटेल को साथ लाने की कोशिश तेज कर दी है. अनुप्रिया पटेल ने कृष्णा पटेल को साथ लाने के लिए यूपी सरकार में मंत्री पद का विकल्प दिया है. साथ ही आशीष पटेल की जगह एमएलसी बनाने का भी विकल्प दिया है. लेकिन तमाम विकल्प के बावजूद भी कृष्णा पटेल ने ऑफर ठुकरा दिया है. कृष्णा पटेल ने कहा है कि मंत्री, एमएलसी या अन्य कोई भी प्रस्ताव उन्हें मंजूर नहीं है.

उत्तर प्रदेश में चुनाव की तारिख नजदीक आने पर केंद्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने अपना दल कमेरावादी की मुखिया मां कृष्णा पटेल को साथ लाने के लिए उन्हें कई प्रस्ताव दिए हैं. अनुप्रिया पटेल चुनाव से पहले पार्टी को माजबूत करने के लिए अपनी मां को मानाने में जुट गई है. अनुप्रिया पटेल ने अपना दल सोनेलाल और मां कृष्णा पटेल के अपना दल कमेरावादी को विलय करने का प्रस्ताव दिया है. अनुप्रिया पटेल ने कृष्णा पटेल को यूपी सरकार में मंत्री पद का विकल्प दिया है. इसके आलावा आशीष पटेल की जगह एमएलसी बनाने का प्रस्ताव भी दिया है. अनुप्रिया पटेल के दिए किसी भी प्रस्ताव को मां कृष्णा पटेल ने ठुकरा दिया है. कृष्णा पटेल ने कहा है कि मंत्री, एमएलसी या अन्य कोई भी प्रस्ताव उन्हें मंजूर नहीं है.

UP चुनाव 2022 पर बोले उपेंद्र कुशवाहा- BJP से हो रही बात, नहीं माने तो अकेले लड़ेंगे चुनाव

साथ ही अनुप्रिया पटेल ने मां कृष्णा पटेल को अपना दल का आजीवन राष्ट्रिय अध्यक्ष या संरक्षक बनाने का प्रस्ताव दिया है. खबर है कि बहन पल्लवी और उनके पति पंकज निरंजन के कारण पेंच फंसा हुआ है. अनुप्रिया तमाम कोशिशों में जुटी हुई है कि यूपी चुनाव से पहले दोनों धड़े एक हो जाए. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में अपना दल कोटे से एक मंत्री पद खाली है जो की अनुप्रिया पटेल ने अपनी कृष्णा पटेल को ऑफर किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें