UP BEd Admission 2021: कब से शुरू होंगे यूपी बीएड डायरेक्ट एडमिशन, जानें डिटेल्स

Swati Gautam, Last updated: Wed, 3rd Nov 2021, 10:37 AM IST
  • उत्तर प्रदेश में 8 नवंबर 2021 से बीएड के डायरेक्ट एडमिशन शुरू हो जाएंगे. कॉलेज स्तर पर एडमिशन 'BEd काउंसलिंग पोर्टल' से ही होगा. काउंसलिंग के तहत डायरेक्ट एडमिशन के लिए अप्लाई करने वाले अभ्यर्थियों को 750 रुपये नॉन-रिफंडेबल काउंसलिंग फीस ऑनलाइन जमा करवानी होगी.
UP BEd Admission 2021: कब से शुरू होंगे यूपी बीएड डायरेक्ट एडमिशन और काउंसलिंग. file photo

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के BEd कॉलेजों में डायरेक्ट एडमिशन की प्रक्रिया शुरू होने वाली है. बता दें कि 8 नवंबर 2021 से बीएड के डायरेक्ट एडमिशन शुरू हो जाएंगे. साथ ही कॉलेज स्तर पर एडमिशन 'BEd काउंसलिंग पोर्टल' से ही होगा. शिक्षा विभाग के अधिकारी ने बताया कि इस काउंसलिंग में उन्हीं अभ्यर्थियों को हिस्सा लेने का मौका मिलेगा जो मुख्य काउंसलिंग में हिस्सा नहीं ले सके थे या फिर उन्हें जिन्हें मुख्य काउंसलिंग में भी सीट अलॉट नहीं हो सकी. एलिजिबल स्टेट-रैंक धारक अभ्यर्थियों को भी इस काउंसलिंग का हिस्सा बनने का मौके मिलेगा.

बीएड काउंसलिंग का हिस्सा बनने के लिए अभ्यर्थियों को एप्लीकेशन फीस का भी भुगतान करना होगा. मालूम हो कि काउंसलिंग के तहत डायरेक्ट एडमिशन के लिए अप्लाई करने वाले अभ्यर्थियों को 750 रुपये नॉन-रिफंडेबल काउंसलिंग फीस ऑनलाइन जमा करवानी होगी. साथ ही इस बार जेईई बीएड काउंसलिंग पोर्टल पर अभ्यर्थियों के रजिस्टर्ड मोबाइंल नंबरों पर भेजे गए OTP के माध्यम से कॉलेजों को अभ्यर्थियों के डॉक्यमेंट्स को वेरिफाई करना होगा.

UP में दिवाली के बाद योगी सरकार करेगी 22 हजार पदों पर भर्ती, जानें किन पदों पर कितनी वैकेंसी

बीएड के जिस भी कॉलेज में एडमिशन होगा, वह कॉलेज लखनऊ विश्वविद्यालय की वेबसाइट के माध्यम से अभ्यर्थियों की डिटेल्स को वेरिफाई करेगा और नियमों के अनुसार डायरेक्ट एडमिशन देगा. एडमिशन और सेमेस्टर फीस भी कॉलेज स्तर पर ही भारती जायेगी. बता दें कि बीएड में एडमिशन काउंसलिंग का लास्ट राउंड 16 नवंबर 2021 से शुरू हो सकता है. इस राउंड से अल्पसंख्यकों को एडमिशन मिलेगा. इससे पहले अल्पसंख्यक कॉलेज अपनी अलग से प्रवेश परीक्षा आयोजित करवाते थे, लेकिन इस प्रोसेस में बहुत अधिक समय लगने के कारण इन कॉलेजों ने भी इसी काउंसलिंग के तहत एडमिशन एक्सेप्ट करना शुरू कर दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें