लखनऊ: UP बोर्ड के लिए दृष्टिबाधित छात्रों को 10-15 Km.दूर दे दिया एग्जाम सेंटर

Smart News Team, Last updated: Sat, 30th Jan 2021, 2:35 PM IST
लखनऊ में दृष्टिबाधित छात्रों का यूपी बोर्ड का परीक्षा केंद्र 10 से 15 किलोमीटर दूर बना दिया गया है जिसे लेकर स्कूल के प्रधानाचार्य ने आपत्ति दर्ज कराई है. परीक्षा केंद्र निर्धारण नीति के अनुसार दिव्यांग छात्रों के लिए स्वकेंद्र की व्यवस्था है.
लखनऊ में दृष्टिबाधित स्कूल के छात्रों का परीक्षा केंद्र 10 से 15 किलोमीटर दूर बना दिया गया है.

लखनऊ. राजधानी में यूपी बोर्ड के परीक्षा केंद्र बनाने में काफी गड़बड़ियां सामने आई है. गौरतलब है कि राजकीय दृष्टिबाधित स्कूल के छात्रों का परीक्षा केंद्र विभाग द्वारा 10 से 15 किलोमीटर दूर बना दिया गया है जबकि इन छात्रों के लिए स्वर केंद्र की व्यवस्था है. शुक्रवार को स्कूल के प्रधानाचार्य ने इस पर आपत्ति दर्ज कराई है.

जानकारी के अनुसार मोहन रोड स्थित स्पर्श राजकीय दृष्टिबाधित बालक इंटर कॉलेज यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्र बनाया गया है. लेकिन इस स्कूल के 34 छात्रों को दूसरे परीक्षा केंद्र में एग्जाम देना होगा. इसके अलावा कुछ अन्य विद्यार्थियों को इंडस्ट्रियल इंटर कॉलेज और कुछ को एमडी शुक्ला इंटर कॉलेज में एग्जाम देना होगा.

हाईकोर्ट ने थानों के बाहर लगे अपराधियों के बैनर हटाने के दिए निर्देश

प्रधानाचार्य डॉ ओमकार नाथ शुक्ला का कहना है कि परीक्षा केंद्र निर्धारण नीति में साफ बताया गया है कि दिव्यांग छात्रों को उनके स्कूल में परीक्षा देने की सुविधा दी जाएगी. उन्होंने छात्रों के लिए केंद्र की सुविधा दिलाने की मांग की है. आपको बता दें कि माध्यमिक शिक्षा परिषद ने कुछ दिनों पहले यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटर परीक्षा 2021 के परीक्षा केंद्रों की सूची जारी की है. शुक्रवार तक 100 से अधिक आपत्तियां दर्ज कराई गईं. इसमें सबसे अधिक आपत्तियां दूरी को लेकर हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें