UP बोर्ड परीक्षा 8 मई से कराने का प्रस्ताव, CM योगी की सहमति के बाद आएगी डेटशीट

Smart News Team, Last updated: 05/04/2021 11:11 AM IST
  • माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की तरफ से इस परीक्षा का आयोजन 8 मई से कराए जाने के लिए प्रस्ताव दिया गया है. परीक्षा कराए जाने के इस प्रस्ताव पर उत्तर प्रदेश के मुख्य्मंत्री योगी आदित्यनाथ की सहमति मिलने के बाद ही माध्यमिक शिक्षा विभाग एग्जाम की तैयारी शुरू करेगा.
UP बोर्ड परीक्षा 8 मई से कराने का प्रस्ताव, CM योगी की सहमति के बाद आएगी डेटशीट

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर कराई जाने वाली हाई स्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा 2021 का आयोजन 8 मई से कराना प्रस्तावित है. इसके लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सहमति मिलने के बाद परीक्षा की स्कीम जारी करेगा. इससे पहले बोर्ड परीक्षा का आयोजन 24 अप्रैल से 12 मई तक करने के लिए प्रस्तावित थी, लेकिन प्रदेश में चल रहे पंचायत चुनाव के मद्देनजर इन बोर्ड परीक्षाओं को कुछ अरसे के लिए स्थगित कर दिया गया था.

उत्तर प्रदेश में कुछ दिनों पहले तक हाई स्कूल और इंटरमीडिएट के होने वाली वार्षिक बोर्ड परिक्षाओं को अप्रैल में आयोजित किए जाने की उम्मीद लगाई जा रही थी लेकिन अब माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की तरफ से इस परीक्षा का आयोजन 8 मई से कराए जाने के लिए प्रस्ताव दिया गया है. परीक्षा कराए जाने के इस प्रस्ताव पर उत्तर प्रदेश के मुख्य्मंत्री योगी आदित्यनाथ की सहमति मिलने के बाद ही माध्यमिक शिक्षा विभाग द्वारा परीक्षा के आयोजन की तैयारी शुरू की जाएगी और सभी परिक्षा स्कीम भी जारी की जाएगी.

यूपी में एक कोरोना पॉजिटिव मिलने पर कंटेनमेंट जोन, दो या ज्यादा तो 60 घर सील

माध्यमिक शिक्षा विभाग के एक अधिकारी के मुताबिक अब 8 मई से परीक्षा शुरू कराने का प्रस्ताव है. परिक्षाओं को मई में ही संपन्न कराकर जून के अंत तक परिणाम घोषित कराने की योजना है. परीक्षा के लिए परीक्षा केंद्र सहित अन्य व्यवस्थाएं पहले से ही तैयार है. बोर्ड परीक्षाओं के संबंध में उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि मई में परीक्षा कराई जाएगी. दूसरे सप्ताह से परीक्षाएं कराने का विचार है. उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से विचार विमर्श के बाद परीक्षा कार्यक्रम जारी किया जाएगा.

अब सरकारी स्कूलों के बच्चों को इन चीजों का पैसा बैंक खाते में भेजेगी योगी सरकार

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें