लखनऊ कैब ड्राइवर केस में युवती से हुई पूछताछ, कहा- नियम तोड़ने पर ड्राइवर को पीटा

Smart News Team, Last updated: Mon, 9th Aug 2021, 1:11 PM IST
लखनऊ में कैब ड्राइवर को पीटने वाली युवती से रविवार को कृष्णानगर कोतवाली में घंटो पूछताछ की गई है. पूछताछ में युवती अपने पुराने बयानों को ही दोहराती रही और घटना में कैब ड्राइवर की गलती बताई. युवती के खिलाफ लूट की एफआईआर भी दर्ज है. आरोप साबित होने पर उसे गिरफ्तार किया जा सकता है.
लखनऊ में कैब ड्राइवर को पीटने वाली लड़की से पुलिस ने की पूछताछ

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के बाराबिरवा चौराहे पर कैब ड्राइवर को पीटने वाली लड़की से लखनऊ पुलिस ने रविवार को कंई घंटे तक पूछताछ की. कृष्णानगर कोतवाली में विवेचक इंस्पेक्टर जितेंद्र सिंह से युवती से घंटो सवाल-जवाब किए. पूछताछ के दौरान युवती अपने पुराने बयानों पर ही अडिग रही. युवती ने फिर यही दोहराया कि भीड़ ने कैब ड्राइवर को पीटा, वह गाड़ी चलाते हुए मोबाइल देख रहा था. युवती ने कहा कि ड्राइवर ने रेड लाइट होने के बावजूद गाड़ी आगे बढ़ाई. इसलिए युवती ने कैब ड्राइवर को ट्रैफिक नियम तोड़ने के लिए पीटा था. आपको बता दें कि पुलिस ने पीड़ित कैब ड्राइवर के साथियों के हड़ताल की चेतावनी मिलने के बाद युवती पर दबाव बनाया और बयान दर्ज कराने के लिए कोतवाली बुलाया था.

वहीं सोशल मीडिया पर वायरल हुई पहली वीडियो के आधार पर ही पुलिस पीड़ित ड्राइवर सआदत के खिलाफ कार्रवाई कर चुकी थी. इसके साथ ही पुलिस ने ड्राइवर के दो भाइयों को भी जेल में डाल दिया था. वहीं घटना के दूसरे दिन वायरल हुई दूसरी वीडियो में साफ तौर पर लड़की की गलती दिखाई दे रही थी. इसमें युवती चलती गाड़ियों के बीच रोड़ पार करती दिख रही थी. वायरल हुए इस वीडियो से कैब ड्राइवर को सोशल मीडिया से भारी समर्थन मिला था. इसके बाद युवती के खिलाफ पुलिस ने एफआईआर दर्ज की थी. आपको बता दें कि युवती को दो दिनों से बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया जा रहा था. इसके बाद युवती रविवार को कृष्णानगर कोतवाली में बयान देने गई थी. 

यूपी में रक्षाबंधन पर महिलाओं को फ्री यात्रा के साथ गिफ्ट भी देगी योगी सरकार

युवती से पूछताछ में कृष्णानगर कोतवाली इंस्पेक्टर आलोक राय और बंथरा इंस्पेक्टर भी मौजूद थे. पुलिस इंस्पेक्टर ने युवती के वायरल वीडियो के संदर्भ में कई सवाल पूछे. इसके साथ ही उन्होंने युवती की ओर से पुलिस पर लगाये गये आरोपों पर भी सवाल किये. युवती ने इस पर कहा कि ट्रैफिक रुल तोड़ने के कारण गाड़ी उससे टकराने से बची थी. पुलिस ने युवती की पड़ोसियों से झगड़ने की पहली वीडियो पर भी सवाल किये. इसके साथ ही पुलिस ने युवती पर ड्राइवर ने लगाए आरोपों पर भी  कई सवाल किये. बता दें कि युवती के खिलाफ लूट की धारा में भी एफआईआर दर्ज है. आरोप साबित होने पर युवती की गिरफ्तारी भी की जा सकती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें