Omicron पर CM योगी सख्त, क्रिसमस की रात से नाईट कर्फ्यू लागू, जानिए फुल गाइडलाइंस

Somya Sri, Last updated: Fri, 24th Dec 2021, 12:09 PM IST
  • यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिशा निर्देश जारी कर दिया है. जिसके मुताबिक यूपी में 25 दिसंबर यानी क्रिसमस की रात से नाईट कर्फ्यू लागू हो जाएगा. शादी समारोह आदि समारोह में अधिकतम 200 लोग शामिल हो सकेंगे. बाजारों में ग्राहकों को मास्क नहीं पहनने पर सामान नहीं दिया जाएगा. अन्य राज्यों से आने वालों की यूपी में कोरोना टेस्टिंग होगी.
सीएम योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन को लेकर सख्ती दिखाते हुए गाइडलाइंस जारी कर दी है. जिसके मुताबिक 25 दिसंबर यानी क्रिसमस की रात से नाईट कर्फ्यू लागू हो जाएगा. रात 11:00 बजे से सुबह 5:00 बजे यूपी में आवाजाही की मनाही रहेगी. इस दौरान उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी. वहीं गाइडलाइंस के मुताबिक शादी समारोह आदि सार्वजनिक आयोजनों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अधिकतम 200 लोग ही शामिल हो सकेंगे. किसी भी कार्यक्रम से पहले आयोजनकर्ता को इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को देनी होगी.

मास्क नहीं तो सामान नहीं

सीएम योगी आदित्यनाथ ने उच्चस्तरीय टीम 09 के साथ बैठक कर अधिकारियों को निर्देश दिया कि, "बाजारों में "मास्क नहीं तो सामान नहीं" के संदेश के साथ व्यापारियों को जागरूक करें. बिना मास्क कोई भी दुकानदार ग्राहक को सामान न दे. सड़कों व बाजारों में हर किसी के लिए मास्क अनिवार्य किया जाए. साथ ही इस दौरान पुलिस बल लगातार गश्त करे. पब्लिक एड्रेस सिस्टम को और प्रभावी बनाया जाए."

लखनऊ के निगोहां में पुलिस कर्मियों ने युवक को सरे बाजार पीटा, एसपी ने दिए जांच के आदेश

अन्य राज्यों से आने वालों की यूपी में कोरोना टेस्टिंग

जानकारी के मुताबिक सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिशा-निर्देश जारी करते हुए कहा है कि, " देश के किसी भी राज्य से या विदेश से उत्तर प्रदेश की सीमा में आने वाले हर एक व्यक्ति की ट्रेसिंग-टेस्टिंग की जाए. बस, रेलवे और एयरपोर्ट पर अतिरिक्त सतर्कता बरती जाए." उन्होंने कहा कि, " तीसरी लहर के दृष्टिगत गांवों और शहरी वार्डों में निगरानी समितियों को पुनः एक्टिव करें. बाहर से आने वाले हर एक व्यक्ति की टेस्टिंग कराएं. उनके स्वास्थ्य पर सतत नजर रखी जाए. आवश्यकतानुसार लोगों को क्वारन्टीन किया जाए, अस्पतालों में भर्ती कराया जाए."

यूपी के छात्र स्मार्ट फोन और टैबलेट से कर सकेंगे मुफ्त पढ़ाई, इंफोसिस करेगा मदद

सीएम योगी ने बैठक के दौरान अधिकारियों को निर्देश दिया कि, " प्रदेश के सभी शासकीय और निजी चिकित्सा संस्थानों में उपलब्ध चिकित्सकीय सुविधाओं की बारीकी से परख कर ली जाए. औद्योगिक इकाइयों में कोविड हेल्प डेस्क और डे केयर सेंटर फिर एक्टिव करें." इस दौरान उन्होंने कहा कि देश के विभिन्न राज्यों में कोविड के मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है. ऐसे में कुछ कड़े कदम उठाए जाने की आवश्यकता है. मालूम हो कि इससे पहले मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार ने क्रिसमस की रात से नाईट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें