यूपी में लॉकडाउन को लेकर CM योगी का बड़ा बयान, कहा- गलतफहमी में ना रहें..

Smart News Team, Last updated: 12/04/2021 06:37 PM IST
  • हम जनता को मरने नहीं देंगे, कहीं भी किसी भी जिले से बेड की कमी की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए. किसी भी तरह की आपात स्थिति से निपटने के लिए पहले से पूरी तैयारी करें.
यूपी में लॉकडाउन को लेकर CM योगी का बड़ा बयान, कहा- गलतफहमी में ना रहें..

लखनऊ: सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में बढ़ते कोरोना के मामलों पर चिंता जाहिर की और जिले के अफसरों कड़े शब्दों में निर्देश दिया की कोई भी लापरवाही माफ नहीं की जायेगी. सीएम योगी आदित्यनाथ ने ये भी कहा कि गलतफहमी में न रहें, लॉकडाउन नहीं लगेगा. हम जनता को मरने नहीं देंगे, कहीं भी किसी भी जिले से बेड की कमी की शिकायत नहीं मिलनी चाहिए. किसी भी तरह की आपात स्थिति से निपटने के लिए पहले से पूरी तैयारी करें. आवश्यकतानुसार निजी हॉस्पिटलों और मेडिकल कॉलेजों को टेकओवर करें. उन्होंने जिलों में टेस्टिंग, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग और ट्रीटमेंट पर जोर दिया. योगी ने स्पष्ट कहा कि हमें जीवन भी बचाना है और जीविका भी.

सीएम योगी ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर एक उच्चस्तरीय बैठक कर समीक्षा की. सीएम ने कोरोना के रोकथाम के लिए प्रभावी रणनीति बनाने के आदेश दिए. मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री का पूरा जोर कोरोना संक्रमण और बढ़ने से पहले तैयारियों को लेकर था. उन्होंने इसे तस्दीक भी किया कि कोरोना के खिलाफ संघर्ष को पूरी तैयारी के साथ मजबूती से लड़ना होगा.

UP पंचायत चुनाव में एक दूसरे खिलाफ उतरीं देवरानी-जेठानी, ऐसे कर रहीं प्रचार

कोरोना के खिलाफ लडाई में कोई लापरवाही की गुंजाइश नहीं है. पिछले वर्ष कोरोना संक्रमण को नियंत्रण करने में सफलता मिली है. उसी प्रकार से इस बार भी हम मजबूती से लड़ाई लड़ते हुए हम सफल होंगे. इसके लिए उन्होंने एल 2 और एल 3 के बेड्स पर्याप्त मात्रा में बढ़ाने के निर्देश दिए हैं. इसके लिए उन्होंने निजी हॉस्पिटल और मेडिकल कॉलेज का टेकओवर करने के भी निर्देश दिए हैं. उन्होंने निजी अस्पतालों और लैब में निर्धारित दरों से अधिक वसूली पर नाराजगी जाहिर की और कार्यवाही के निर्देश दिए हैं.

योगी सरकार का फैसला- UP में चलाएं बारिश का पानी बचाने के लिए विशेष अभियान

उन्होंने कहा कि किसी की मजबूरी का फायदा, नहीं उठाने दिया जाएगा. इसे सख्ती के साथ रोकें. गलत जानकारी देने पर कठोर कार्यवाही होगी. सीएम ने 108 एंबुलेंस सेवा को आधी कोविड, आधी बिना कोविड के लिए और एंबुलेंस का रेस्पांस टाईम 15 मिनट रखने के निर्देश दिए हैं. उन्होंने पूरी लड़ाई का केंद्र बिंदु इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को बनाने और उसकी एक-एक गतिविधि की निगरानी पर जोर दिया है.

राजधानी लखनऊ में बढ़ते कोरोना से 950 इलाकों में बैरिकेडिंग, 1091 घर सील

निजी लैब्स कर सकते हैं टेकओवर

सीएम योगी ने कोरोना के जांच में बढ़ते भीड़ को देखते हुए कहा की प्राइवेट लैब को टेकओवर किया जाए और कोरोना जांच में तेजी लाई जाए. बदले में प्राइवेट लैब को उसका उचित दाम दिया जायेगा उन्होंने लैब और टेस्टिंग की क्षमता के विस्तार पर जोर दिया है. आरटीपीसीआर की टेस्ट की क्षमता को 70 फीसदी तक पहुंचाने के निर्देश दिए हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें