कच्ची शराब के खिलाफ अभियान की तैयारी में योगी सरकार, तीन विभाग मिलकर करेंगे काम

Smart News Team, Last updated: 20/11/2020 08:09 AM IST
  • कच्ची शराब को देखते हुए15 दिन के अभियान में सरकार का उद्देश्य होगा की कच्ची शराब का निर्माण और बिक्री दोनों पर लगाम लग सके. इसके लिए पुलिस, प्रशासन और आबकारी विभाग के अधिकारी मिलकर टीमों का गठन करेंगे. पंचायची चुनाव को देखते हुए कच्ची शराब पर रोक लगाई जा रही है जिसके लिए सरकार सख्त कदम ले रही है.
कच्ची शराब के निर्माण और बिक्री पर रोक के लिए सरकार विभागों की सहायता से अभियान चलाएगी.(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. प्रदेश में बिक रही कच्ची शराब केे खिलाफ सरकार ने अभियान चलाने की तैयारी कर ली है. 15 दिन के अभियान में सरकार का उद्देश्य होगा की कच्ची शराब का निर्माण और बिक्री दोनों पर लगाम लग सके. इसके लिए पुलिस, प्रशासन और आबकारी विभाग के अधिकारी मिलकर टीमों का गठन करेंगे. पंचायची चुनाव को देखते हुए भी सरकार की कोशिश है की कच्ची शराब पर रोक लगाई जाए जिसके लिए सरकार सख्त कदम ले रही है. 

अपर मुख्य सचिव संजय भूसरेड्डी ने पूरे अभियान पर जानकारी देते हुए कहा है कि इसके लिए तीनों विभाग मिलकर एक टीम बनाएंगे. ये टीमें नारकोटिक्स और कच्ची शराब के अड्डों पर छापमारी करेगी और उन्हें नष्ट करेगी. इस दौरान अगर पकड़े गए लोगों के खिलाफ आईपीसी की धाराओं के अनुसार कठोर कार्रवाई की जाएगी. 

बिना मास्क पहुंचे तो नहीं मिलेगा कॉलेजों में प्रवेश

इससे पहले आसन्न पंचायत चुनाव को लेकर सरकार लगातार सख्त रुख ले रही है. पिछले एक महीने में पुलिस मे अवैध शराब के अड़्डो पर कार्रवाई करते हुए 8342 लोगों को गिरफ्तार किया है.  इसलिए अभियान के तहत कार्रवाई के बाद से चुनावों में शराब की बिक्री को फिर रोकने का मौका मिलेगा. 

इकलौती बेटी की शादी का कार्ड बांटने निकले पिता की सड़क हादसे में दर्दनाक मौत

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें