अखिलेश यादव खुद नहीं चाहते हैं कि आजम खां जेल से बाहर आएं- सीएम योगी आदित्यनाथ

Ankul Kaushik, Last updated: Mon, 14th Feb 2022, 9:01 AM IST
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने न्‍यूज एजेंसी एएनआई को दिए एक इंटरव्‍यू में एक बहुत बड़ा दावा किया है. सीएम योगी ने कहा है कि अखिलेश यादव खुद नहीं चाहते हैं कि आजम खान जेल से बाहर आएं. क्योंकि अगर वह बाहर आए तो अखिलेश की कुर्सी खतरे में पड़ जाएगी.
उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने न्‍यूज एजेंसी एएनआई को इंटरव्यू दिया है. इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बहुत बड़ा दावा किया है. सीएम योगी ने कहा कि अखिलेश यादव खुद नहीं चाहते हैं कि आजम खान बाहर आएं क्योंकि अखिलेश जी की कुर्सी खतरे में पड़ जाएगी. आजम खान या अन्य लोगों के मामले न्यायालय से जुड़े हैं, इनका राज्य सरकार से कोई लेना-देना नहीं. जमानत देने का अधिकार न्यायालय का होता है. इसके साथ ही सीएम योगी ने कहा कि अखिलेश जी के खानदान के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति का मामला है, क्या ये बीजेपी की सरकार के समय हुआ था? 2013 में तो बीजेपी की सरकार भी नहीं थी। इनके खिलाफ और भी बहुत सारे मामले हैं, क्या ये बीजेपी के कारण हुआ है.

इसके साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने हिजाब मामले पर कहा कि भारत की व्यवस्था संविधान के अनुरूप चलनी चाहिए, हमारी व्यक्तिगत आस्था और पसंद-नापसंद हम देश और संस्थाओं पर लागू नहीं कर सकते हैं. क्या मैं UP में सभी कर्मचारियों या लोगों को बोल सकता हूं कि आप भी भगवा धारण करें? स्कूल में ड्रेस कोड लागू होना चाहिए. पिछले 5 सालों में प्रदेश में कोई दंगा नहीं हुआ, कर्फ्यू नहीं लगा. आज तो प्रदेश में कावड़ यात्रा शानदार तरीके निकलती है ये आस्था का सम्मान है और प्रदेश के लोगों को सुरक्षा का एहसास कराता है.

यूपी चुनाव: कड़ी सुरक्षा के बीच दूसरे चरण में 9 जिलों की 55 सीटों पर वोटिंग आज

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सीएम योगी ने कहा यूपी में पहले चरण के चुनाव शांतिपूर्ण ढंग से हुए कहीं कोई दंगा नहीं हुआ, नहीं तो यहां दंगे और गुंडागर्दी होती थी. मैं पूछना चाहता हूं कि क्या बंगाल में इतने शांतिपूर्ण तरीके से चुनाव होते हैं? बंगाल में विधानसभा चुनाव के दौरान BJP कार्यकर्ताओं पर बर्बर अत्याचार हो रहा था. बूथ कैप्चर किए जा रहे थे और केरल में भी ऐसे ही हुआ था और ये लोग जो बंगाल से यहां आकर अराजकता फैलाने की बात कर रहे हैं, इसके प्रति जनता को अलर्ट करने की जरूरत थी कि सावधान जो सम्मान और सुरक्षा मिली है उस पर सेंध लगाने के लिए लोग आ गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें