गृहमंत्री अमित शाह से मिले UP डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, विधानसभा चुनाव को लेकर हुई चर्चा

Prachi Tandon, Last updated: Fri, 3rd Sep 2021, 10:07 PM IST
  • उत्तर प्रदेश उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य शुक्रवार को दिल्ली में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मिले. डिप्टी सीएम केशव मौर्य और गृहमंत्री अमित शाह के बीच यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर चर्चा हुई. 
गृहमंत्री अमित शाह से मिले UP डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (फोटो सोर्स-केशव प्रसाद मौर्य ट्वीटर अकाउंट)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री ने दिल्ली में शुक्रवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर दोनों नेताओं के बीच विस्तृत रूप से चर्चा की गई. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने फोटो ट्वीट कर इसकी जानकारी दी. केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट कर लिखा कि "नई दिल्ली में गृहमंत्री अद्वितीय संगठनकर्ता तथा दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति के पर्याय अमित शाह से भेंटकर प्रदेश की राजनीतिक स्थिति तथा विधानसभा चुनाव के संबंध में मार्गदर्शन प्राप्त किया" 

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने तैयारियां जोर-शोर पर शुरू कर दी हैं. योगी सरकार जनता को इंप्रेस करने के लिए कई बड़ी योजनाएं भी लेकर आ रही है. इसी के साथ भाजपा और संगठन मिलकर चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं. डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य भी केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से चुनावी चर्चा को लेकर मिले. 

केशव प्रसाद मौर्य ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात से पहले बीजेपी की जीत का दावा भी किया था. डिप्टी सीएम मौर्य ने कहा था कि 2024 लोकसभा चुनाव की सीढ़ी यूपी के चुनाव से होकर ही गुजरेगी. मौर्य ने कहा था कि दिल्ली का रास्ता यूपी से होकर जाता है. इसी के साथ मौर्य ने दावा करते हुए कहा था कि भाजपा 2022 के चुनाव में 300 से ज्यादा सीटों का आंकड़ा पार करेगी. 

UP विधानसभा चुनाव में होगी BJP की जीत! कांग्रेस के हिस्से आएगी सिर्फ इतनी सीटें: ABP-सी वोटर सर्वे

डिप्टी सीएम ने दावा भाजपा की जीत का दावा करते हुए कहा था कि इस आंकड़े को पार करने में उन्हें कोई संशय नहीं दिखाई देता है. वह मानते हैं कि 2022 के चुनाव और 2024 के चुनाव एक दूसरे के लिए सहायक सिद्ध होंगे. इसलिए 2022 के चुनाव में बीजेपी का कार्यकर्ता जान लड़ाकर लड़ेगा और भाजपा को जीताएगा. केशव प्रसाद मौर्य ने इसी के साथ कहा था कि जैसे जनता ने भाजपा को 2014, 2017 और 2019 में आशीर्वाद दिया उसी तरह 2022 में भी किसी विरोधी दल के बहकावे में आए बगैर फैसला करेगी. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें