अतीक को साथ लाके बोले ओवैसी- मुसलमान वोट से यादव CM बनता है लेकिन नौकरी चपरासी की भी नहीं मिलती

Nawab Ali, Last updated: Tue, 7th Sep 2021, 7:04 PM IST
  • यूपी चुनाव 2022 से पहले AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने राम नगरी अयोध्या में विशाल जनसभा को संबोधित किया है. जनसभा में असदुद्दीन ओवैसी ने सीएम योगी आदित्यनाथ की भाजपा पर कम और अखिलेश यादव की सपा, मायावती की बसपा और प्रियंका गांधी की कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा है.
अयोध्या में जनसभा में असदुदीन ओवैसी ने जनसभा में अखिलेश यादव निशाना साधा है. (फोटो साभार फेसबुक असदुदीन ओवैसी)

लखनऊ. ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के चीफ असदुद्दीन ओवैसी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की पिच पर खेलने की तैयारी में हैं. असदुद्दीन ओवैसी ने मंगलवार को अयोध्या से एक विशाल जनसभा को संबोधित किया. जनसभा में संबोधन के दौरान असदुद्दीन ओवैसी ने उत्तर प्रदेश में मुसलमानों की बदहाली के लिए सपा, बसपा और कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में मुसलमानों की आबादी 19 फीसदी है लेकिन यादव 10 फीसदी होने के बाद भी मुसलमानों के वोट लेकर मुख्यमंत्री बनता है. और मुसलमानों को चपरासी की नौकरी भी नहीं मिलती.

मंगलवार को बाहुबली अतीक अहमद और उनके परिवार को एआईएमआईएम में शामिल कराने के बाद ओवैसी ने राम नगरी अयोध्या में जनसभा की. जहां सबसे खास बात रही कि इस दौरान ओवैसी ने भाजपा नहीं बल्कि दूसरी सियासी पार्टियों पर जमकर निशाना साधा. असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि यूपी के घर घर में मजलिस का पैगाम पहुंच गया है.

महिला ने किया मिलने से मना तो युवक ने अश्लील फोटो एडिट कर डाली सोशल मीडिया पर, फिर...

असदुद्दीन ओवैसी ने एक जनसभा में कहा कि यूपी में सबको बराबर हिस्सा मिला है लेकिन मुसलमान को हिस्सा नहीं मिला है. उत्तर प्रदेश का मुसलमान आज सबसे ज्यादा परेशान हैं और मुसलमानों की इस हालत की जिम्मेदार सेक्युलर पार्टियां हैं. अब मुसलमान उत्तर प्रदेश में अपने वोट के साथ भागीदारी की भी बात करेगा. असदुद्दीन ओवैसी ने अखिलेश यादव पर भी जमकर हमला किया है. ओवैसी ने कहा है कि मुसलमानों को मोदी-योगी के नाम पर डराकर वोट लेने का काम करते हैं लेकिन अब उत्तर प्रदेश में हम आ गए हैं.

आपको बता दें कि बिहार चुनाव में नई पार्टी के हिसाब से अच्छा प्रदर्शन करने वाली एआईएमआईएम के निशाने पर अब यूपी विधानसभा चुनाव 2022 है. ओवैसी पिछले कुछ महीनों से यूपी में जगह-जगह जनसभा करते हुए नजर भी आ रहे हैं. उत्तर प्रदेश के चुनावी समर में वो सुहेलदेव समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर के साथ गठबंधन कर मैदान में उतरे हैं. असदुद्दीन ओवैसी और ओम प्रकाश राजभर भागीदारी संकल्प मोर्चा के बैनर तले कई सियासी दलों को जोड़कर चुनाव लड़ने जा रहे हैं. हालांकि, अभी तक इस मोर्चे में कौन-कौन लड़ेगा, ये साफ नहीं हो पाया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें