यूपी चुनाव : BJP से अलाएंस न होने पर JDU अध्‍यक्ष ने केंद्रीय मंत्री को कह दी बड़ी बात

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Mon, 24th Jan 2022, 4:03 PM IST
  • भाजपा के साथ उत्तर प्रदेश चुनाव 2022 में गठबंधन पर बात न बन पाने पर जेडीयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने सोमवार को कहा कि केंद्रीय मंत्री व जदयू नेता RCP Singh के जरिए भाजपा ने पार्टी को अलाएंस में शामिल होने का ऑफर दिया था. RCP Singh को अब आकलन करना चाहिए कि BJP का वह ऑफर कितना ईमानदारी से भरा था.
केंद्रीय इस्पात मंत्री राम चन्द्र प्रसाद सिंह यानी RCP Singh (बाएं) व जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष लल्लन सिंह (दाएं)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा के साथ गठबंधन पर बात न बन पाने पर जेडीयू नेताओं की आपस में नाराजगी दिखने लगी है. जेडीयू के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ललन सिंह ने सोमवार को कहा कि यूपी के चुनावी मैदान एक साथ उतरने के लिए भाजपा ने जदयू को गठबंधन में शामिल होने का ऑफर केंद्रीय इस्पात मंत्री व जदयू नेता राम चन्द्र प्रसाद सिंह  RCP Singh के जरिए दिया था. जिसका आकलन आरसीपी सिंह को करना चाहिए कि भाजपा की ओर से मिला वह ऑफर कितना ईमानदारी से दिया गया था.

सोमवार को जेडीयू अध्‍यक्ष ललन सिंह मीडिया से जुड़े लोगों के साथ बातचीत कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने बताया कि यूपी में भाजपा के साथ गठबंधन को लेकर हम लोगों ने 30 विधानसभा सीटों की लिस्ट भेजी थी. हालांकि, भाजपा की ओर से उस पर कोई सकारात्मक जवाब नहीं आया. बीते दिनों जब भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने यूपी चुनाव में निषाद पार्टी और अपना दल के साथ NDA गठबंधन होने का ऐलान किया तो यह जेडीयू के लिए चौंकाने की बात थी. जेडीयू अध्‍यक्ष ललन सिंह ने कहा कि अब यूपी चुनाव के लिए भाजपा के साथ गठबंधन की उम्‍मीदें खत्‍म हो चुकी है.

यूपी में BJP के खिलाफ चुनाव लड़ने से बिहार गठबंधन पर नहीं होगा असरः राजीव रंजन सिंह

अब तक यूपी चुनाव में जेडीयू ने अकेले चुनावी मैदान में उतरने के फैसला किया है. इसे लेकर पार्टी ने ऐलान किया है कि वह सूबे के 26 विधानसभा सीटों पर अपना उम्‍मीदवार उतारेगी. हालांकि जेडीयू की तरफ से उम्‍मीदवारों के नामों की घोषणा नहीं की गई है. जेडीयू अध्‍यक्ष सिंह ने कहा कि जेडीयू एक राजनीतिक दल है. इस नाते वह यूपी में चुनाव लड़ना चाहता है. चाहे इसके लिए भाजपा जेडीयू को भाव दे या न दे इससे JDU को कोई फर्क नहीं पड़ता. 

बाद में मीडिया को दिए बयान में ललन सिंह ने शामिल किया कि भाजपा के साथ जेडीयू का गठबंधन न होने पाने पर वह किसी को दोषी नहीं मान रहे हैं. हालांकि पार्टी के वरिष्ठ नेता आरसीपी सिंह यूपी में गठबंधन को लेकर भाजपा से बात कर रहे थे. जेडीयू अध्‍यक्ष ने बताया कि आरसीपी सिंह के माध्यम से ही उन्‍हें जानकारी मिली थी कि भाजपा की ओर से पार्टी को गठबंधन में शामिल होने का ऑफर मिल रही है. इसी भरोसे पर पार्टी रह गई. भाजपा ने कुछ सीटें ऑफर करने की बात कही थी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. 

UP चुनाव के लिए JDU ने जारी की 25 सीटों की लिस्ट, प्रत्याशियों की घोषणा जल्द

भाजपा पर निशाना साधते हुए ललन सिंह ने कहा कि कुछ समय पहले भाजपा ने अरुणांचल में जेडीयू के विधायकों को अपनी पार्टी में मिला लिया था. वह काम गठबंधन धर्म के अनुरूप नहीं था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें