UP Election : लखनऊ में पोलिंग बूथ पर BSP सुप्रीमो मायावती ने सबसे पहले डाला वोट

Ankul Kaushik, Last updated: Wed, 23rd Feb 2022, 10:44 AM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में आज बुधवार को 9 जिलों की 59 सीटों पर मतदान हो रहा है. इस मौके पर बीएसपी की सुप्रीमो मायावती ने लखनऊ के चिल्ड्रन पैलेस न्यून सिपल नर्सरी स्कूल में बने पोलिंग बूथ पर पहला वोट डाला. मायावती ने कहा सपा को वोट देने का मतलब गुंडा राज, माफिया राज.
लखनऊ में बसपा सुप्रीमो मायावती ने डाला वोट, फोटो क्रेडिट (एएनआई ट्विटर)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में हो रहे विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए आज बुधवार को मतदान जारी है. चौथे चरण में प्रदेश के 9 जिलों की 59 सीटों पर वोटिंग हो रही है. इस मौके पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने लखनऊ के चिल्ड्रन पैलेस न्यून सिपल नर्सरी स्कूल में बने पोलिंग बूथ पर सबसे पहले वोट डाला. वोट डालकर बाहर निकलीं बसपा सुप्रीमो मावावती ने मीडिया से बात करते हुए सपा और बीजेपी की सरकार पर जमकर निशाना साधा. बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा सपा को वोट देने का मतलब गुंडा राज, माफिया राज. इसके साथ ही समाजवादी पार्टी को मुसलमानों को वोट दिए जाने पर मायावती ने कहा के क्षेत्र में जाकर इन चीजों की सच्चाई आप पता कर सकते हैं.

मायावती ने कहा कि बीएसपी को अकेले दलितों का ही नहीं मुसलमानों का ही नहीं बल्कि अति पिछड़े वर्गों सर्व समाज के लोगों का वोट मिल रहा है. जब रिजल्ट आएगा तो वक्त बताएगा तो कौन कितने पानी में है. भारतीय जनता पार्टी और सपा दावा कर रही है कहीं ऐसा ना हो जाए इन के दावे रखे न रह जाएं. मुझे पूरा भरोसा है सन 2007 की तरह बहुजन समाज पार्टी सरकार बनाएगी. वहीं ओपिनयन पोल पर करते हुए कहा कि एजेंसी वाले लोग जो सर्वे दिखा रहे हैं मीडिया जो दिखा रही है वह 2007 में भी ऐसे ही दिखा रहे थे लेकिन जब रिजल्ट आए तो बीएसपी नंबर वन थी.

यूपी में नहीं खत्म हुआ बसपा का वजूद, मायावती को मुस्लिम वोट भी मिलेंगे: अमित शाह

इसके साथ ही मायावती ने सपा अध्यक्ष पर हमला करते हुए कहा कि अखिलेश यादव अगर अंबेडकरवादी होते तो वह हमारे द्वारा शुरू किए गए कार्यों और जगहों के नाम अपनी सरकार में ना बदलते अखिलेश यादव नकली अंबेडकरवादी हैं. वहीं मायावती ने अमित शाह के बीएसपी के अच्छा चुनाव लड़ने के जवाब पर कहा यह उनकी महानता है जो उन्होंने सच्चाई को स्वीकार किया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें