UP चुनाव: SC और OBC वर्ग को नौकरियां देने की तैयारी कर रही योगी सरकार, विभागों से मांगी जानकारी

Shubham Bajpai, Last updated: Sun, 5th Sep 2021, 9:23 AM IST
  • यूपी चुनाव से पहले योगी सरकार हर वर्ग को साधने में जुटी है. सपा और बसपा के वोट बैंक को अपनी तरफ लुभाने के लिए यूपी सरकार एससी और ओबीसी वर्ग के लिए जल्द कई नौकरियां निकाल सकती है. इसके लिए सरकार ने सभी सरकारी विभागों से उनके यहां एससी और ओबीसी वर्ग के खाली पदों की जानकारी मांगी है.
SC और OBC वर्ग को नौकरियां देने की तैयारी कर रही योगी सरकार

लखनऊ. यूपी में विधानसभा चुनाव को लेकर अब प्रदेश की योगी सरकार तैयारियों में लग गई है. सरकार चुनाव से पहले हर वर्ग को अपने साथ करने में जुटी है। खासतौर पर एससी और ओबीसी वर्ग को साधने के लिए सरकार योजनाओं के साथ उनके रोजगार के लिए भी काम करने जा रही है. इसके लिए योगी सरकार ने सभी सरकारी विभागों से उनके यहां ओबीसी और एससी वर्ग के खाली पदों की जानकारी मांगी और इन पदों को भरने के लिए क्या काम किया जा रहा है. इस संबंध में भी जानकारी देने को कहा है.

विभागों से एससी, ओबीसी वर्ग के युवाओं को मिली नौकरियों का मांगा ब्यौरा

प्रदेश की भाजपा सरकार ने विभागों के विभागाध्यक्ष से अभी तक उनके विभाग में अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति को मिल चुकी नौकरियां का ब्यौरा मांगा है. इसे लिए सरकार ने पत्र भेजकर जानकारी देने को कहा है. इसमें समूह क, ख, ग, घ वर्ग में कितने युवाओं को अभी तक रोजगार मिल चुका है. इसकी जानकारी क्रमवार रूप से देने को कहा गया है.

यूपी चुनाव से पहले जनता से फीडबैक लेगी BJP, शिक्षक दिवस से शुरू होगा भाजपा का प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन

बेरोजगारी पर सरकार का विशेष ध्यान

विधानसभा चुनाव से पहले योगी सरकार बेरोजगारी के मुद्दे को दूर करने का प्रयास कर रही है ताकि चुनाव में इसका नुकसान सरकार को न उठाना पड़े. इसके लिए जल्द ही रोजगार देने के उद्देश्य से अधीनस्थ सेवा चयन आयोग 25 हजार पदों पर भर्ती के लिए प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है.

फर्जी डिग्री मामले में डिप्टी CM केशव मौर्य को मिली राहत, कोर्ट ने सभी आरोपों को किया खारिज

ओबीसी और एससी के सहारे सभी दल

प्रदेश में ओबीसी और एससी वर्ग का सबसे अधिक वोटबैंक है. इसके लिए हर दल इस वर्ग को अपनी ओर करने का प्रयास कर रही है. क्योंकि यूपी विधानसभा में जिस पार्टी के साथ यह वर्ग हो जाता है उसकी स्थिति अन्य सभी पार्टियों से बेहतर हो जाती है. इसलिए प्रदेश सरकार नौकरी मिल चुके इस वर्ग के लोगों का डाटाबेस तैयार करवा रही है ताकि आने वाले चुनाव में इन आकड़ों के सहारे इस वर्ग को अपनी ओर किया जा सके.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें