शिवपाल के घर मिले ओवैसी, राजभर, चंद्रशेखर, यूपी चुनाव भागीदारी संकल्प मोर्चा में हो सकते हैं शामिल

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 30th Sep 2021, 1:37 PM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर प्रसपा प्रमुख शिवपाल सिंह यादव के आवास पर एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी, सुभासपा प्रमुख ओम प्रकाश राजभर और आजाद समाज पार्टी के अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने बैठक की. एक घंटे चली इस बैठक में भागीदारी संकल्प मोर्चा में शामिल होने को लेकर चर्चा की गई.
शिवपाल के घर में हुई राजभर ओवैसी और चंद्रशेखर की बैठक

लखनऊ. यूपी विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियों को लेकर सभी राजनीतिक दल लगे हुए हैं. इसी बीच गठबंधन की राजनीति तेज हो गई है. राजधानी लखनऊ में प्रगतिशील समावादी पार्टी (प्रसपा) के मुखिया शिवपाल सिंह यादव के घर पर ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के मुखिया ओम प्रकाश राजभर और आजाद समाज पार्टी के सुप्रीमो चंद्रशेखर आजाद ने बैठक की. बैठक में ओमप्रकाश राजभर द्वारा बनाए जा रहे भागीदारी संकल्प मोर्चा में शामिल होने को लेकर चारों नेताओं ने चर्चा की. एक घंटे चली इस बैठक में अपने जैसे दलों को मोर्चा में शामिल करने को लेकर भी बातचीत की. इस बैठक को लेकर कई सियासी मतलब भी निकाले जा रहे हैं.

बैठक में गठबंधन से लेकर सीटों पर हुई चर्चा

जानकारी अनुसार, शिवपाल यादव के घर में हुई बैठक में छोटे दलों को साथ लाकर यूपी का विधानसभा चुनाव लड़ने को लेकर चर्चा की गई. इस बैठक में गठबंधन के साथ सीटों को लेकर भी बातचीत की गई. जिसमें उन सीटों को लेकर भी बातचीत की गई जहां इन दलों का खासा प्रभाव है.

यूपी में सपा MLA के बिगड़े बोल, ब्राह्मण-क्षत्रियों को बताया चोर, कहा- हमें नहीं चाहिए इनका वोट

ओवैसी और राजभर पहले से है मोर्चा का हिस्सा

ओवैसी और ओम प्रकाश राजभर पहले से इस मोर्चा का हिस्सा हैं, लेकिन ओवैसी के मसूद गाजी की मजार पर जाने के बीच दोनों पार्टियों के बीच मतभेद हुए थे. जिसको लेकर ओम प्रकाश राजभर ने यहां तक कह दिया था कि ओवैसी अभी भागीदारी संकल्प मोर्चा का हिस्सा ही नहीं हैं. इस बैठक के बाद से कयास लगाए जा रहे हैं कि दोनों नेता फिर से साथ आ गए हैं. बता दें कि सुहेलदेव और मसूद गाजी के बीच युद्ध हुआ था, उन्हीं सुहेलदेव के नाम पर राजभर की पार्टी होने के चलते दोनों पार्टियों में दूरियां आ गई थी.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कानपुर पहुंचकर मनीष गुप्ता के परिवार से की मुलाकात

अखिलेश को 11 अक्टूबर तक का शिवपाल दे चुके हैं अल्टीमेटम

शिवपाल यादव किसी भी पार्टी से गठबंधन से पहले अपने पुराने दल समाजवादी पार्टी से जुड़ने को लेकर प्रयास कर रहे हैं. कई सार्वजनिक मंचों पर भी वो इस बात को दोहरा चुके हैं कि बिना किसी शर्त के सपा के साथ गठबंधन को तैयार है, लेकिन अभी तक सपा की तरफ से कोई जवाब न आने पर शिवपाल अखिलेश की सपा को 11 अक्टूबर तक का अल्टीमेटम दे चुके हैं. उन्होंने कहा कि यदि तब तक कोई जवाब नहीं आता है तो वो यूपी की सभी 403 विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी उतारने की तैयारी शुरू कर देंगे और 12 अक्टूबर से उनका यूपी भ्रमण का कार्यक्रम शुरू हो जाएगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें