यूपी पंचायत चुनाव को निष्पक्ष और शांति से कराने की DM-SP की जिम्मेदारी: EC

Smart News Team, Last updated: 19/03/2021 08:57 PM IST
राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से पचांयत चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की. इस मीटिंग में उन्होंने कहा कि यूपी पंचायत चुनाव निष्पक्ष और शांतिपूर्ण कराने की जिम्मेदारी सभी डीएम और एसपी की होगी.
राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त ने यूपी पंचायत चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा मीटिंग की.

लखनऊ. यूपी पंचायत चुनाव को निष्पक्ष और शांतिपूर्ण कराने की जिम्मेदारी डीएम और एसपी की होगी. ये बात राज्य निर्वाचन आयोग के आयुक्त मनोज कुमार ने कही. निर्वाचन आयोग के आयुक्त ने गुरुवार को योजना भवन में वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के जरिए पंचायत चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की है. उन्होंने जिलाधिकारियों और पुलिस कप्तानों को कहा कि चुनाव आयोग से मिली शिकायतों का निस्तारण 24 घंटे के भीतर कराएं. 

इस मीटिंग में चुनाव आयोग के आयुक्त ने चुनाव के दौरान किसी भी अप्रिय घटना होने पर संबंधित अधिकारियों पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. उन्होंने डीएम और एसपी को मतदान केन्द्रों का निरीक्षण कर वहां कमियों को चिन्हित कर समय पर दूर करने के निर्देश दिए. इसके अलावा उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों की गतिविधियों पर नजर रखकर उनके खिलाफ कार्रवाई करें.

UP में BJP सरकार के 4 साल: योगी बोले- उत्तर प्रदेश में पौने दो करोड़ रोजगार का सृजन

समीक्षा मीटिंग में निर्वाचन आयोग के आयुक्त मनोज कुमार ने कहा कि मतगणना केन्द्र बोर्ड परीक्षा को ध्यान में रखते हुए बनाए जाएं ताकि परीक्षा में व्यवधान न हो. उन्होंने हथियारों की दुकानों का औचक निरीक्षण करने और रिकॉर्ड में गड़बड़ी पाए जाने पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. आयुक्त ने निष्पक्ष पंचायत चुनाव के लिए पुलिस मूवमेंट बनाने के निर्देश दिए.

UP में BJP सरकार के 4 साल: योगी बोले- 2014 के बाद किसान बना राजनीति का हिस्सा

इस मीटिंग में आयुक्त के अलावा अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश भी मौजूद रहे. उन्होंने कहा कि पंचायत चुनाव में नामांकन की वीडियोग्राफी कराई जाएगी. इसके अलावा अपर निर्वाचन आयुक्त ने अवैध शराब की तस्करी करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए. आपको बता दें कि यूपी पंचायत चुनाव के आरक्षण पर इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच के फैसले के बाद नए सिरे से पंचायत चुनाव की आरक्षण सूची तैयार की जाएगी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें