प्रबुद्ध सम्मेलन के जरिए बीजेपी टटोलेगी प्रदेश की जनता की नब्ज, अपने पक्ष में माहौल बनाने की तैयारी

Shubham Bajpai, Last updated: Sat, 18th Sep 2021, 3:02 PM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर भाजपा ने चुनावी बिगुल आज से फूंक दिया है. आज लखनऊ में भारतीय जनता पार्टी प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन की शुरुआत करने जा रही है. लखनऊ की मध्य विधानसभा में आयोजित इस प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे. 
प्रबुद्ध सम्मेलन के जरिए बीजेपी टटोलेगी प्रदेश की जनता की नब्ज (फोटो सभार-ANI)

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियों को लेकर सभी राजनैतिक दलों ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है. अब सत्तारुढ़ दल भाजपा भी प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के जरिए पूरे प्रदेश में जनता की नब्ज टटोलने जा रही है. इस सम्मेलन में भाजपा प्रतिष्ठित लोगों को बुलाएगी और उनसे चर्चा करेगी. 20 सितंबर तक प्रदेश की सभी 403 विधानसभा सीटों में भाजपा प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन का आयोजन करने जा रही है. वहीं, आज लखनऊ की मध्य विधानसभा में आयोजित इस सम्मेलन में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे.

सम्मेलन के जरिए लोगों से लेना चाह रही फीडबैक

भाजपा इस सम्मेलन के जरिए हर विधानसभा में रहने वाले प्रतिष्ठित लोगों से भाजपा प्रदेश की साढ़े 4 साल सरकार के कार्यकाल और कोरोना काल में सरकार की भूमिका को लेकर चर्चा कर रही है. ताकि इसकी जानकारी हो सके कि प्रदेश में भाजपा से जनता किन मामलों में नाराज है और किन कामों को जनता का समर्थन है. सरकार और भाजपा संगठन इस सम्मेलन के जरिए लोगों की नब्ज टटोलकर उन मुद्दों को लेकर चुनावी मैदान में उतरने की तैयारी कर रही है.

महिला मोर्चा की महिलाएं हर रसोई तक बनाएं अपनी पहुंच- राज्यसभा सांसद गीता शाक्य

अपराध और राम मंदिर पर किया जाएगा फोकस

भाजपा इस चुनाव में राम मंदिर और काशी कॉरिडोर समेत कई मुद्दों को हर सभा और लोगों के बीच प्राथमिकता के आधार पर रखना चाहती है. जिससे एक वर्ग उनसे पूरी तरह से जुड़ सके. इसलिए सभी सम्मेलन में इसको लेकर भी बात की जा रही है. वहीं, अपराधियों पर की गई कार्रवाई बदमाशों के एनकाउंटर, सपंत्तियों को कुर्क करने जैसे मुद्दों को भी जनता के बीच उठाकर सुशासन की छवि को मजबूत करने का भी काम करेगी. ताकि अपराधमुक्त प्रदेश के मुद्दों से लोग सरकार से जुड़े और जिसका फायदा भाजपा को 2022 के विधानसभा चुनाव में मिल सके.

UP के युवाओं को रोजगार का मौका, हर जिले में 4 अक्टूबर से लगेगा अप्रेंटिसशिप मेला

सम्मेलन में लोगों से बात कर तैयार करेगी घोषणा पत्र

भाजपा हर विधानसभा के प्रोफेसर, शिक्षक, इंजीनियर, डॉक्टर, साहित्यकार, बिजनेसमैन, सीए, खिलाड़ी और वकीलों को इस सम्मेलन से जोड़कर सरकार के कामकाज और सरकार के लिए सुझाव आमंत्रित कर रही है. जिसको लेकर आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा अपना घोषणा पत्र तैयार करने की तैयारी कर रही है. इन सम्मेलन में आने वाले बिंदुओं और वो मुद्दे जिनसे लोग ज्यादा प्रभावित हैं उनको घोषणा पत्र में पार्टी शामिल कर सकती है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें